हरियाणा विधानसभा: विपक्ष ने सरकार पर किए तीखे हमले, मंत्रियों ने किया बचाव

चंडीगढ़

हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के 7वें दिन भी सदन में हंगामा देखने को मिला. सदन में कांग्रेस विधायक करण दलाल ने साक्षी मलिक को नौकरी देने का मुद्दा उठाया.

करण दलाल ने कहा कि सरकार ने अपना वायदा पूरा नहीं किया. वहीं, कांग्रेस ने करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज का मुद्दा भी उठाया. साथ ही सरकार से पूछा कि मेडिकल कॉलेज का नाम बदला या नहीं.

सवालों के जवाब में अनिल विज ने सदन को बताया कि कल्पना चावला के नाम से मेडिकल कॉलेज है, जबकि यूनिवर्सिटी का नाम दीन दयाल उपाध्याय के नाम से है.

वहीं, कांग्रेस विधायक कुलदीप शर्मा ने खनन को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए, जिसे लेकर कुलदीप शर्मा के खिलाफ सदन में विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव पेश किया गया, जो पारित हो गया.

इस दौरान कुलदीप शर्मा ने खेल मंत्री अनिल विज पर टिप्पणी की. वहीं सदन में कांग्रेस विधायक करण दलाल और अभय चौटाला में नोकझोंक हुई.

उधर, बीजेपी विधायक उमेश अग्रवाल ने सदन में अफोर्डेबल हाउसिंग स्कीम के तहत किफायती मकानों के लिए मास्टर प्लॉन की पॉलिसी में अनियमितताओं के आरोप लगाए. साथ ही उन्होंने पूछा कि 2031 में 300 एकड़ को बढ़ाकर पांच सौ एकड़ करने के प्रस्ताव में क्या बदलाव किए गए हैं. अगर बदलाव किए हैं तो क्यों.

वहीं, जवाब में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने सदन में कहा कि मास्टर प्लान में कोई बदलाव नहीं किया गया, लेकिन जरुरत के मुताबिक इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव हो सकता है.

अग्रवाल ने मास्टर प्लॉन पॉलिसी में धांधली के आरोप भी लगाए. उन्होंने कहा कि लाइसेंस देने में गड़बड़ी हुई है. पिछली सरकार ने भी जांच नहीं करवाई, सरकार आने के बाद जांच नहीं हुई बल्कि लाइसेंस भी दे दिए गए. जिस पर वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने अनियमितता पाए जाने के बाद जांच का आश्वासन दिया.

Share With:
Rate This Article