रोहतक बस छेड़छाड़ केस याद है, पढ़ें कोर्ट ने क्या फैसला सुनाया

लगभग 2 वर्ष पहले हरियाणा रोडवेज बस में 2 बहन जिन लड़को से मारपीट कर चर्चा में आई थी, उस सम्बन्ध में तीनो आरोपियों को बरी कर दिया. यह घटना घटना 28 नवंबर 2014 की है, जिसमे दो बहनें रोडवेज बस में सफर के दौरान तीन लड़कों पर पहले तो छेड़छाड़ का आरोप लगाया और फिर उनकी पिटाई की.

इस मामले में पहले तो उन लड़कियों की बहुत तारीफ हुई मगर बाद में मीडिया में इनके दो वीडियो सामने आए इन दोनों में भी लड़कियां किसी लड़के को पीटते हुए दिखाई दे रही थी. यह भी आरोप है कि दोनों बहनों ने अपने किसी साथी से इसका वीडियो बनवाया. बता दे कि कोर्ट ने आरोपियों के खिलाफ कोई ठोस सबूत न होने के कारण इन्हें बरी कर दिया. छेड़छाड़ का आरोप लगाने वाली लड़कियों आरती और पूजा के वकील अत्तर सिंह तंवर ने कहा कि वो इस निर्णय से नाखुश है और इसके लिए आगे अपील करेगे.

बरी हुए लड़को के वकील ने कहा कि उन्हें कानून पर पूरा भरोसा था, उन्हें न्याय मिला है. पुलिस ने तीनो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. इस मामले कि जाँच के लिए एसआईटी भी बनाई गई थी किन्तु उन्होंने भी लड़को को क्लीन चिट दे दी थी.

Share With:
Rate This Article