बकरी की जान बचाना पड़ा भारी, दो युवकों की दर्दनाक मौत

श्री मुक्तसर साहिब

प्रतिदिन की तरह गांव से बकरियां चराने गए 2 नौजवानों की चंदभान ड्रेन की दलदल में डूबने के कारण दुखद मौत हो गई। पुलिस को दी गई जानकारी में गांव भागसर वासी जीत सिंह पुत्र मुखत्यार सिंह ने बताया कि उसका पुत्र गोपाल सिंह (18) और जगसीर सिंह (19) पुत्र बलजीत सिंह अपने 2 अन्य साथियों के साथ प्रतिदिन की तरह गांव के बाहर चंदभान ड्रेन के नजदीक रामगढ़ चुंघा के पुल व ठोकर के बीच बकरियां चराने गए थे। इस दौरान साथ गए करीब 13-14 वर्ष की आयु के 2 बच्चों ने बताया कि एक बकरी चंदभान ड्रेन में जा गिरी । बकरी को बचाने के लिए गोपाल चंदभान ड्रेन में उतरा। जब वह डूबने लगा तो उसके शोर मचाने पर उसको बचाने के लिए जगसीर भी ड्रेन में कूद गया।

इस दौरान दोनों ही दलदल से बाहर न आ सके व डूब गए। दोनों को डूबते देख जब साथियों ने शोर मचाया तो पास ही ट्यूबवैल चला रहे एक गांववासी ने गांव में फोन करके गुरुद्वारा साहिब में अनाऊंसमैंट करवाई, परंतु जब तक गांव वासी वहां पहुंचे दोनों की मौत हो चुकी थी। गांव वासियों ने काफी मेहनत उपरांत दोनों शव बाहर निकाले। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस पार्टी मौके पर पहुंची। थाना लक्खेवाली मुखी केवल सिंह ने बताया कि मृतक गोपाल सिंह के पिता जीत सिंह के बयानों पर धारा 174 की कार्रवाई की गई है। इस घटना के कारण क्षेत्र में मातम छाया हुआ है। मृतक 3 भाइयों में सबसे बड़ा था व पिता के साथ मेहनत-मजदूरी करके परिवार का पालन-पोषण कर रहा था।

Share With:
Rate This Article