विदेश सचिव ने कहा, ‘भारत के साथ रिश्ते आगे बढ़ाना चाहता है अमेरिका’

वॉशिंगटन

ट्रंप प्रशासन का भारत-अमेरिकी संबंधों को लेकर ‘काफी सकारात्मक नज़रिया’ है. यह कहना है भारत के विदेश सचिव एस जयशंकर का जिनका कहना है कि अमेरिका की भारत के साथ संबंधों को आगे ले जाने में काफी रूचि है. जयशंकर ने यह बात वरिष्ठ कैबिनेट सदस्यों और शीर्ष अधिकारियों के साथ व्यापक बातचीत के बाद कही है. द्विपक्षीय संबंधों को आगे ले जाने को लेकर ‘आशावादी’ रूख जताते हुए यशंकर ने वॉशिंगटन में भारतीय पत्रकारों को बताया कि ओबामा प्रशासन के दौरान शुरू हुई भारत-अमेरिकी कूटनीतिक और वाणिज्यिक वार्ता इस साल भी आयोजित होगी.

उन्होंने कहा ‘कुल मिलाकर यह दिख रहा है कि प्रशासन का भारत और उसके साथ संबंधों को लेकर सकारात्मक नजरिया है.’ वॉशिंगटन में अपनी यात्रा के दौरान जयशंकर ने विदेश मंत्री टिलरसन, वाणिज्य मंत्री रॉस, होमलैंड सुरक्षा मंत्री जनरल (रिटायर्ड) जॉन कैली, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार आर मैकमास्टर और राष्ट्रपति के उप सहायक केन जस्टर से मुलाकात की. टिलरसन के साथ जयशंकर ने द्विपक्षीय कूटनीतिक संबंधों के साथ-साथ अफगानिस्तान और एशिया प्रशांत क्षेत्र में स्थिति पर चर्चा की.

वाणिज्य मंत्री के साथ चर्चा द्विपक्षीय व्यापार और आर्थिक सहयोग पर केंद्रित रही जबकि होमलैंड सुरक्षा मंत्री के साथ आव्रजन तथा भारतीयों और अमेरिका में भारतीय अमेरिकी समुदाय के कल्याण से संबंधित मुद्दों पर बातचीत की गई. पूर्व अमेरिकी नौसैनिक द्वारा भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचीभोटला की हत्या के परिदृश्य में होमलैंड सुरक्षा मंत्री के साथ जयशंकर की बातचीत को अहम माना जा रहा है.

Share With:
Rate This Article