श्रीनिवास मामला: रोकने की कोशिश करने वाले अमेरिकी छात्र को भारत यात्रा का न्यौता

भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचीवोतला पर गोली चलाने वाले हमलावर को रोकने की कोशिश करने वाले अमरीकी युवक इयन ग्रिलट को भारत आने का न्योता दिया गया है.

कैनसस हॉस्पिटल यूनिवर्सिटी ने एक बयान जारी कर कहा है कि गुरुवार को भारतीय राजनयिकों ने इयान ग्रिलट से मुलाक़ात की और उन्हें भारत आने का आमंत्रण दिया.

24 साल के इयन इस हमले में घायल हो गए थे. बीते मंगलवार को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.
भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज समेत भारतीय समुदाय ने इयान की बहादुरी की तारीफ़ की थी.
अमरीका में मारे गए भारतीय इंजीनियर की पत्नी की भावुक पोस्ट

हिंदुस्तान टाइम्स ने इयन के हवाले से कहा कि, “मैं समझता हूं कि अब भारत जाने की एक बेहतर वजह मिल गई है.”

22 फ़रवरी को कैनसस के ओलेथ में स्थित ऑस्टिन्स बार एंड ग्रिल रेस्तरां में इयन उस वक्त मौजूद थे जब हमलावर एडम प्यूरिंटन ने दो भारतीय इंजीनयरों श्रीनिवास कुचीवोतला और आलोक मदासानी पर हमला बोला था. हमलावर ने गोली चलाने से पहले कथित रूप से ‘मेरे देश से निकल जाओ’ कहा था.

Share With:
Rate This Article