मेट्रो में अब फ्लोर पर बैठकर सफर करने वालों की खैर नहीं, मिलेगी ये सजा

नई दिल्ली

मेट्रो में सफर करते वक्त सीट न मिलने और थके होने के कारण अगर आप भी फ्लोर पर बैठ जाते हैं, तो अब आपको यह आदत छोडऩी होगी। अब फ्लोर पर बैठे तो मेट्रो स्क्वॉड आपको ट्रेन से उतार सकती है। इतना ही नहीं आप पर 200 रुपए का जुर्माना भी लगाया जा सकता है। पीक ऑवर्स के दौरान जब सहयात्रियों को ठीक से खड़े होने की भी जगह नहीं मिलती कुछ लोग फ्लोर पर बैठे रहते हैं, इस आदत को बुनियादी शिष्टाचार के खिलाफ मानते हुए मेट्रो ने यह कदम उठाया है। सूत्रों के मुताबिक, शुक्रवार को येलो लाइन पर मेट्रो स्क्वॉड ने चेकिंग कर महिला कोच में फ्लोर पर बैठी यात्रियों को सुल्तानपुर, अर्जन गढ़ और गिटोरनी मेट्रो स्टेशन्स पर ट्रेन से उतार दिया। साथ ही कुछ यात्रियों से जुर्माने के तौर पर 200 वसूले।

मेट्रो प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार, अब यह स्क्वॉड सप्ताह के शुरुआत में और अंत में चेकिंग करेगी। बाकी दिनों में भी स्क्वॉड गश्त लगा सकती है। गौरतलब है कि सोमवार और शुक्रवार को मेट्रो में भीड़ अधिक होती है। ऐसे में अगर कुछ यात्री फ्लोर पर बैठ जाते हैं तो इस कारण खड़े होकर यात्रा कर रहे पैसेंजर्स को तो परेशानी होती ही है, स्पेस भी ज्यादा घिर जाता है। मेट्रो के रुटीन पैसेंजर मेट्रो की इस पहल का स्वागत कर रहे हैं। वहीं, कुछ यात्रियों का कहना है कि अगर कोई व्यक्ति थका हुआ है और दिल्ली से गुडग़ांव की एक घंटे की जर्नी खड़े होकर नहीं कर पाता, ऐसे में उसके फ्लोर पर बैठ जाने में कोई बुराई नहीं है। मेट्रो के इस कदम पर यात्रियों की तरफ से मेट्रो को कोच बढ़ाने और कोच में सीट बढ़ाने के सुझाव भी मिल रहे हैं।

Share With:
Rate This Article