9 करोड़ का ‘युवराज’, सालाना कमाता है 50 लाख से ज्यादा

चित्रकूट में चल रहे ग्रामोदय मेले में एक भैंसा इन दिनों सभी के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। नौ साल के इस भैंसे की कीमत करीब 9 करोड़ है। मुर्रा प्रजाति का इस भैंसे का नाम युवराज है, जिसे दुनिया का सबसे महंगा भैंसा माना जाता है। यह भैंसा हरियाणा के किसान कर्मवीर सिंह का है और इसके बारे में कहा जाता है कि वह जिस भी पशु मेले में जाता है छा जाता है।

क्या है 9 करोड़ के भैंसे की खासियत
दरअसल, युवराज के सीमंस की जबर्दस्त मांग है। देश भर के लोग अपनी दुधारू भैंसो के लिए युवराज की सीमन की चाह में कर्मवीर के पास आते हैं। युवराज की सेहत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसकी लंबाई 6.5 फीट और वजन करीब 1600 किलो है।

युवराज से होती है भारी कमाई
कर्मवीर को युवराज से हर साल लगभग 50 लाख रुपये से ज्यादा की कमाई होती है। इसके सीमंस की हर डोज को 300 रुपये में बेचकर उन्हें भारी कमाई होती है। लेकिन यह सब कुछ ऐसे नहीं होता। युवराज भैंसे की डाइट और उसके रखरखाव पर प्रतिदिन 3 से 4 हजार रुपये खर्च होते हैं।

युवराज की खुराक कर देगी हैरान
युवराज को हर दिन 100 सेब या फल (करीब 10 किलो), 20 लीटर दूध और अनाज और ड्राई फ्रूट्स सहित 5 किलो चारा भी खिलाया जाता हैं। इतना ही नहीं दिन में दो बार सरसो के तेल से युवराज की मालिश भी की जाती है। जबर्दस्त दूध देने वाली मुर्रा प्रजाति मुख्यता उत्तरी और मध्य भारत में पाई जाती है। इसे दक्षिण एशिया की सबसे ज्यादा दूध देने वाली प्रजाति के तौर पर जाना जाता है।

Share With:
Rate This Article