फर्जी राशनकार्ड वाले सावधान !

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, परिवहन तथा तकनीकी शिक्षा मंत्री जीएस बाली ने कहा कि पहली अप्रैल से प्रदेश के सभी राशनकार्ड धारकों को डिजिटल राशन कार्ड दे दिए जाएंगे। इस कवायद से करीब एक लाख फर्जी राशन कार्ड निरस्त होंगे। इससे अनाज की बर्बादी और कालाबाजारी पर भी रोक लगेगी।

धर्मशाला में पत्रकार वार्ता के दौरान खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री ने कहा कि इसके उपरांत राशन वितरण प्रक्रिया को और अधिक पारदर्शी बनाने के लिए प्रदेशभर में पीओएस मशीनें लगाने का कार्य आरंभ किया जाएगा। इस हाईटेक सिस्टम से उपभोक्ता को पीओएस मशीन में अंगूठा लगाना होगा।

व्यक्ति की पहचान होने पर ही उसे राशन मिलेगा। उपभोक्ताओं की मांग को ध्यान में रखते हुए डिपुओं में रिफाइंड तेल के स्थान पर अब सरसों का तेल उपलब्ध करवाया जाएगा। दालों में भी काले मसर की जगह अन्य दाल देने की योजना है।  बाली ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 25 इलेक्ट्रिक बसों का आपूर्ति का आदेश संबंधित कंपनी दे दिया है। 50 और इलेक्ट्रिक बसों की खरीद का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा है।

ग्रामीण क्षेत्रों में चलाई जाएंगी 200 छोटी बसें
परिवहन मंत्री ने कहा कि शीघ्र ही ग्रामीण क्षेत्रों में 200 छोटी बसें चलाई जाएंगी। चार वर्षों की अवधि में लगभग 2 हजार नई बसें निगम के बेड़े में शामिल की गई हैं।

मैकलोडगंज-ऋषिकेश के लिए चलेगी वोल्वो
बाली ने कहा कि शीघ्र ही मैकलोडगंज से ऋषिकेश के लिए एक नई वोल्वो बस सेवा शुरू की जाएगी जोे हिमाचल और उत्तराखंड के दो महत्वपूर्ण पर्यटक स्थलों को आपस में जोड़गी। टेंपो ट्रेवलर सेवा को अच्छा रिस्पांस नहीं मिल रहा है। इसका लोग ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं।

इंजीनियरिंग कॉलेज में शुरू होगा आर्किटेक्ट का डिग्री कोर्स
बाली ने कहा कि राजीव गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज नगरोटा बगवां में वास्तुकार स्नातक (B Architect)  में अगले सेशन से कक्षाएं आरंभ कर दी जाएंगी। प्रदेश सरकार ने 40 सीटों के प्रथम बैच के लिए अपनी मंजूरी दे दी है।

Share With:
Rate This Article