जाट आरक्षण आंदोलन का 30वां दिन, पढ़ें क्या है आगे की रणनीति

हरियाणा में पिछले साल जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान दर्ज मुकदमों को वापस लेने समेत कई मांगों को लेकर जाट समुदाय का आंदोलन 30वें दिन भी जारी है। मांगें पूरी न होते देख अब जाट नेताओं ने तेवर कड़े कर दिए हैं। हरियाणा में जाट आंदोलनकारी ने प्रदेश भर में काला दिवस मनाया। इस दौरान काली पगड़ी पहनकर विरोध जताया गया। धरने में खासतौर पर महिलाओं की भागादारी भी देखी गई, जहां धरने में काफी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुए। जाट नेताओं ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होगी आंदोलन जारी रहेगा। जाट नेताओं ने कहा कि एक मार्च को प्रदेश में असहयोग आंदोलन चलाया जाएगा, जबकि दो मार्च को दिल्ली का घेराव किया जाएगा।

Share With:
Rate This Article