जब मायावती अपना भाषण पढ़ती हैं तो लोग सोते रहते हैं: अखिलेश यादव

महाराजगंज

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के छठे चरण के लिए प्रचार करते हुए सीएम अखिलेश यादव ने रविवार को बीएसपी और बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि ये दोनों दल गठबंधन भी कर सकते हैं.

अखिलेश ने महाराजगंज के नौतनवा में बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर चुटकी लेते हुए कहा, ‘पता नहीं कहां से बहुत सारे कागज लिखवा लाई थीं. अब उनकी भाषा बदल गई है. मायावती कहती हैं कि अब स्मारक नहीं बनवा पाएंगे. हम 9 साल से हाथी देख रहे हैं. लेकिन अब उनकी भाषा बदल गई है. पत्थरवाली पार्टी अब विकास की बात करने लगी है.’ अखिलेश ने कहा कि जब मायावती अपना भाषण पढ़ती हैं तो आधे से ज्यादा लोग सो रहे होते हैं.

अखिलेश ने बीएसपी और बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘मैं अपने साथियों से कहता हूं कि हमारी बुआजी से सावधान रहना. वह कब बीजेपी से रक्षाबंधन मना लें, इसके बारे में कोई नहीं जानता.’

अखिलेश ने कांग्रेस से गठजोड़ को लेकर कहा कि इससे समाजवादियों को ताकत मिलेगी. उन्होंने कहा, ‘हमारे समाजवादी लोग तो पैडल मारकर साइकल चला लेते हैं, लेकिन जोश में तो हाथ छोड़कर साइकल चला लेते हैं. अब कांग्रेस का हाथ लग गया है तो बताओ कितनी स्पीड है.’ उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग इस गठबंधन को कुनबों का गठजोड़ बता रहे हैं, लेकिन यह दो युवाओं का गठबंधन है.

Share With:
Rate This Article