डिजिटल कामर्स क्षेत्र में कदम रखने की तैयारी में Whatsapp

लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप व्हॉट्सऐप के को-फाउंडर ब्रायन एक्टन ने  सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद से मुलाकात की. इस बैठक के दौरान उन तरीकों पर विचार विमर्श हुआ कि कैसे कंपनी देश के डिजिटल कामर्स क्षेत्र में योगदान कर सकती है.

एक्टन व्हाट्सऐप की आठवीं सालगिरह के मौके पर दिल्ली में मौजूद थे. आज की तारीख में व्हाट्सऐप पर दुनियाभर में हर महीने 1.2 बिलियन यूजर्स एक्टिव रहते हैं जिसमें से 200 मिलियन यूजर्स अकेले भारत से हैं. इस तरह भारत व्हाट्सऐप के लिए दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है.

भारत के महत्व का उल्लेख करते हुए एक्टन ने कहा कि व्हॉट्सऐप भारत के डिजिटल कामर्स की भविष्य की सोच में योगदान करना चाहती है. उन्होंने कहा, भारत हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण देश है. 20 करोड़ लोग अपने दोस्तों , परिवारों और समुदायों को जोड़ने के लिए व्हॉट्सऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं. व्हॉट्सऐप का प्रत्येक फीचर सुगम, विश्वसनीय और सुरक्षित है. यह डिजिटल इंडिया पहल की सोच के अनुरूप है. एक्टन ने कहा कि भारत में अपना निवेश जारी रखेंगे.

इससे पहले इसी सप्ताह माइक्रोसॉफ्ट के प्रमुख सत्या नाडेला ने यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रसाद से मुलाकात की थी. इस बैठक में प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल के जरिये ग्रामीण स्वास्थ्य एवं शिक्षा में सुधार को कंपनी के डिजिटल समावेशन कार्यक्रम पर चर्चा हुई.

Share With:
Rate This Article