जाट आरक्षण आंदोलन का 28वां दिन, कल काला दिवस मनाएंगे जाट

हरियाणा में जाटों के धरने अभी खत्म होते नहीं दिख रहे हैं। आला अफसरों की कमेटी से दो बार बातचीत कर चुके जाट आंदोलनकारियों ने अब बातचीत से इनकार कर दिया है। उधर, सरकार की ओर से तर्क दिया जा रहा है कि आरक्षण का मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इसके अलावा सारी मांगें मान ली गई हैं।

वहीं, अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रमुख यशपाल मलिक ने सरकार पर साजिश करने का आरोप लगाया है। उन्होंने दो टूक कहा है कि सात सूत्रीय मांगों के पूरा होने तक धरने जारी रहेंगे।

Share With:
Rate This Article