पुणे टेस्ट में रुका टीम इंडिया का विजय रथ, ऑस्ट्रेलिया ने 333 रनों से हराया

पुणे

ऑस्ट्रेलियाई टीम ने उम्मीदों से उलट प्रदर्शन करते हुए पहले टेस्ट मैच में पिछले 19 टेस्ट मैचों से अपराजित चली आ रही मेजबान भारतीय टीम को तीसरे दिन शनिवार को ही 333 रनों से करारी शिकस्त दी. चौथी पारी में भारत को जीत के लिए 441 रन चाहिए थे और उसके पास तकरीबन ढाई दिन का समय था.

ऑस्ट्रेलिया की स्पिन जोड़ी स्टीव ओकीफ और नाथन लॉयन ने भारतीय टीम को 33.5 ओवरों में 107 रनों पर ही ढेर कर टीम को शानदार जीत दिलाई. इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है. बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाद ओकीफ ने छह विकेट लिए, उन्होंने पहली पारी में भी छह विकेट लिए थे. इस मैच में उन्होंने पहली बार दस से ज्यादा विकेट लिए हैं. उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया.

नेथन लायन ने इस पारी में चार विकेट लिए. लॉयन को पहली पारी में एक विकेट मिला था. यह भारत की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रनों के लिहाज से तीसरी सबसे बड़ी हार है और टेस्ट इतिहास में रनों के लिहाज से चौथी सबसे बड़ी हार है. यह भारत की घर में रनों के लिहाज से दूसरी सबसे बड़ी हार है. भारतीय टीम के लिए उसकी घर में सबसे बड़ी ताकत स्पिन के दम पर ही ऑस्ट्रेलिया ने उसे उसके घर में न भूलने वाली हार दी.

दिन के पहले सत्र में ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में 285 रनों पर समाप्त करन के बाद ऑस्ट्रेलिया द्वारा घर में मिले तीसरे सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की गहरी बल्लेबाजी डेढ़ सत्र भी अच्छी तरह नहीं खेल सकी.

Share With:
Rate This Article