BHIM App में जोड़े जाएंगे नए फीचर्स

भीम ऐप के डाउनलोड 1.7 करोड़ के आंकड़े पर पहुंच चुके हैं. पीएम मोदी ने 20 दिन पहले 30 दिसंबर के भाषण में इसका जिक्र किया था. डिजिटल भुगतान को प्रमोट करने के लिए सरकार द्वारा लॉन्च किए गए इस ऐप को लोगों ने खूब पसंद किया और अब इसमें नए फीचर्स जोड़े जाएंगे. सरकार ने पिछले साल दिसंबर में तेज और सुरक्षित नकदीरहित भुगतान के मकसद से इस ऐप को पेश किया था.

आइए भीम ऐप से जुड़ी खास बातें जानें
सरकार द्वारा ऐप भीम को बढ़ावा देने के लिये एक महीने के भीतर दो योजनाएं पेश करेगी. इनडिविडुअल (व्यक्तिगत प्रयोग) के लिये ‘रेफरल बोनस स्कीम’ और व्यापारियों के लिये ‘कैश-बैक’योजना पेश करेगी.

नीति आयोग के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अमिताभ कांत ने इन फीचर्स के बारे में बताते हुए कहा, ‘हमने इंटर-मिनिस्ट्री चर्चा पूरी कर ली है. वर्ष 2017-18 के बजट में घोषित कैश-बैक योजनाओं का क्रियान्वयन एक महीने में किया जाएगा.’

भारत इंटरफेस फॉर मनी (भीम) ऐप iOs प्लेटफॉर्म पर इस महीने पेश किया गया. यह एंड्रायड प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध है. नीति आयोग ने एक ट्वीट में कहा, आईओएस के लिए अब बहु-प्रतीक्षित ‘भीम’ ऐप स्टोर पर उपलब्ध है. ऐपल यूज़र, भीम ऐप डाउनलोड करें. #ItPaystoBHIM

भीम एंड्रॉयड ऐप अब बेहतर सिक्योरिटी प्राइवेसी सेटिंग्स के साथ आता है. अब यूज़र mobile-number@upi को डिसेबल कर सकते हैं. ओटीपी/ यूएसएसडी के ज़रिए मोबाइल रजिस्ट्रेशन भी कर सकते हैं.

आप अब चाहे तो भूले हुए पासकोर्ड को रीस्टोर कर सकेंगे और आप चाहें तो पैसे को वापस भी कर सकेंगे. अपडेटेड भीम ऐप गूगल प्ले पर उपलब्ध है.

भीम (BHIM) की फुल फॉर्म है- Bharat Interface for Money. भीम ऐप के जरिए ट्रांजेक्शन के लिए कोई फीस नहीं लगती है. लेकिन यह  संभव है कि आपका बैंक यूपीआई या आईएमपीएस ट्रांसफर फीस ले.

भीम ऐप का इस्तेमाल करने के लिए जरूरी नहीं है कि आपने मोबाइल बैकिंग चालू कर रखी हो. हां, यह जरूरी है कि आपका मोबाइल नंबर बैंक विशेष के पास रजिस्टर हो.

Share With:
Rate This Article