दिल्ली में होगा शूटिंग वर्ल्ड कप का पहला राउंड, हिस्सा लेंगे 50 देशों के शूटर्स

नई दिल्ली

दुनिया के 50 देशों के 452 निशानेबाज यहां के डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में 22 फरवरी से चार मार्च तक होने वाले वर्ल्डकप शूटिंग के पहले राउंड में अपनी दावेदारी पेश करेंगे। इनमें रियो ओलंपिक के गोल्ड मेडल विनर, पूर्व ओलंपिक और विश्व चैम्पियन भी शामिल हैं।

दिल्ली में ही होगा फाइनल
– इस वर्ल्ड कप का फाइनल भी आगामी अक्टूबर में नई दिल्ली स्थित इसी रेंज पर आयोजित होगा।
– भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) के अध्यक्ष रणइंदर सिंह ने कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में इस बारे में जानकारी दी।
– उन्होंने बताया कि इस वर्ल्डकप से भारतीय निशानेबाजी के इतिहास में एक नया अध्याय लिखा जाएगा।’
– उन्होंने कहा, ‘हमारे लिए यह गर्व की बात है कि अपनी शूटिंग रेंज में हम अपने निशानेबाजों को तिरंगा लहराते देखेंगे।’
– ओलंपिक में ब्रोंज मेडल जीत चुके राइफल निशानेबाज गगन नारंग, रियो ओलिंपिक में चौथा स्थान हासिल करने वाले पिस्टल निशानेबाज जीतू राय, फीमेल निशानेबाज हीना सिद्धू और कीनन चेनाई इस अवसर पर मौजूद थे।
– इन निशानेबाजों ने वर्ल्ड कप में अच्छी परफॉर्मेंस की उम्मीद जताते हुए कहा कि ‘घरेलू समर्थन के दम पर वे देश के लिए ज्यादा से ज्यादा मेडल हासिल करेंगे।’
– मप्र राज्य शूटिंग अकादमी के तीन खिलाड़ी संजय सिंह राठौर, मनीषा कीर और सुरभि पाठक भारतीय दल में शामिल हैं।

भारतीय कोच बेहतर हैं: जीतू राय
– देश में सालों से चल रही विदेशी बनाम भारतीय कोच की बहस के बीच टॉप पिस्टल शूटर जीतू राय का मानना है कि भारतीय कोच बेहतर होता है।
– पिस्टल किंग के नाम से मशहूर और पिछले साल रियो ओलिंपिक में 10 मी. एयर पिस्टल के फाइनल में पहुंचकर आठवां स्थान पाने वाले जीतू ने कहा, ‘अगर आप दिल से पूछें तो अपना कोच अच्छा होता है।’
– आगे उन्होंने कहा, ‘मैं विदेशी कोच के कतई खिलाफ नहीं हूं। वे भी अपना काम पूरे निस्वार्थ भाव से करते हैं। लेकिन मुझे लगता है कि भारतीय कोच खिलाड़ियों की भावनाओं को ज्यादा बेहतर समझ सकते हैं।’

Share With:
Rate This Article