यूपी के उरई में बोले पीएम मोदी- बसपा का मतलब ‘बहन जी संपत्ति पार्टी’

उरई

यूपी के उरई में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि 1992 में कश्मीर से कन्याकुमारी तक की एकता यात्रा लेकर चला था तो मुझे यहां आने का मौका मिला था. यूपी चुनाव में किसकी सरकार बने और किसकी न बने, वहां तक सीमित नहीं है. बुंदेलखंड को तय करना है कि सपा-बसपा के चक्कर से निकलना है या नहीं.

उन्होंने कहा, बुंदेलखंड के लोग किसी नेता की न सुनें. मेरी भी मत सुनिए, आप खुद सोचिए कि आपके साथ क्या हुआ. जो भी सरकारें आईं उन्होंने आपकी कोई गिनती ही नहीं की, लेकिन अब जो सरकार बनेगी उसमें बुंदेलखंड की आवाज को सुनने की व्यवस्था होगी. योजनाओं को लागू करने के लिए विशेष प्रावधान किया जाएगा. बुंदेलखंड विकास बोर्ड बनेगा, जिससे हर सप्ताह रिपोर्ट ली जाएगी.

पीएम मोदी ने कहा कि आज बसपा पार्टी कहां से कहां पहुंच गई. जब 8 नवंबर को मैंने टीवी पर आकर कहा कि जिन बड़े-बड़े लोगों ने गरीबों को लूटा है, वही हजार और 500 के नोट गरीबों को लौटाने होंगे. जब मैंने नोटबंदी की और सपा और बसपा जो एक-दूसरे के घोर विरोधी हैं, एक साथ मिलकर नोटबंदी का विरोध करने लगे.

मायावती पर कटाक्ष करते हुए पीएम मोदी ने कहा, बहन जी ने कहा कि नोटबंदी को लेकर पूरी तैयारी नहीं की थी. सरकार ने नहीं की थी या आपने नहीं की थी. नोटबंदी से ज्यादा परेशानी इन्हें इस बात की है कि इन्हें तैयारी करने का मौका नहीं मिला. अब तो बीएसपी का नाम बदल गया है, बहुजन समाज पार्टी नहीं रह गया है, बसपा अब ‘बहनजी संपत्ति पार्टी’ बन गई है.

उन्होंने आगे कहा कि गरीब से गरीब मां-बाप से पूछोगे कि आपकी क्या इच्छा है, तो वे बच्चों की अच्छी शिक्षा की बात करेंगे. मैं उत्तर प्रदेश की सरकार को पूछना चाहता हूं कि क्या कारण है कि प्राथमिक शिक्षा में भारत के पहले 20 राज्यों में यूपी का नाम ही नहीं है. बुंदेलखंड की हालत तो और बुरी है. प्रति व्यक्ति आय में भी पहले 20 राज्यों में भी यूपी का नाम नहीं है. गरीबी ने यहां जड़ें जमाकर रखी हैं.

Share With:
Rate This Article