तमिलनाडु: पलानीस्वामी ने जीता विश्वासमत, पक्ष में पड़े 122 विधायकों के वोट

चेन्नई

तमाम हंगामें के बीच शनिवार को आखिरकार तमिलनाडु विधानसभा में शशिकला के करीबी और राज्य के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने विश्वास मत जीत लिया. उनके पक्ष में 122 विधायकों के वोट पड़े जबकि उनके खिलाफ ग्यारह वोट डाले गए. 29 साल के तमिलनाडु के इतिहास में यह पहला मौका था जब विधानसभा में विश्वास मत साबित करना पड़ा है.

पलानीस्वामी के विश्वास मत पेश करने के बाद सीक्रेट बैलेट वोटिंग की मांग पर तमिलनाडु विधानसभा के अंदर जमकर हंगामा हुआ. स्पीकर पी. धनपाल की तरफ से सीक्रेट वोटिंग की मांग खारिज करने के बाद डीएमके विधायकों ने स्पीकर के सामने की टेबल तोड़ दी, कागज फाड़ दिए और विधानसभा के प्रेस कक्ष में रखे ऑडियो स्पीकर का कनेक्शन काट दिया और स्पीकर की शर्ट फाड़ दी.

इस दौरान हालत को संभालने के लिए मार्शल को बुलाना पड़ा. इस पूरे हंगामे के दौरान एक अधिकारी घायल हो गया, जिन्हें फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया. डीएमके के विधायक कु का सेल्वम विरोध प्रदर्शन करते हुए स्पीकर की कुर्सी पर जा बैठे. सदन के अंदर भारी हंगामे को देखते हुए विधानसभा को पहले दोपहर एक बजे तक और फिर उसके बाद दोबारा तीन बजे तक के लिए स्थगित करना पड़ा.

स्पीकर पी. धनपाल ने असेंबली पुलिस को आदेश दिया है कि वह डीएमके विधायकों को सदन से बाहर निकाले. स्पीकर ने आगे कहा कि डीएमके विधायकों ने मेरा अपमान किया और मेरी शर्ट फाड़ दी, जिसके बाद मैं वह काम करने जा रहा हूं जो कानून के तहत है. इससे पहले, विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विश्वासमत से ठीक पहले वहां के सभी दरवाजे बंद कर दिए गए थे ताकि किसी तरह का कोई अवरोध उत्पन्न ना हो.

Share With:
Rate This Article