Paytm मार्केटप्लेस का स्नैपडील के साथ होगा मर्जर!

पेटीएम के मार्केटप्लेस को और देश की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील के मर्जर की बातचीत पिछले महीने शुरू हुई थी। हालांकि अभी मर्जर की डील फाइनल नहीं हुई है। मामले की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने बताया कि भी यह पक्का नहीं है कि डील होगी या नहीं? अगर सभी पक्ष सहमत होते हैं तो बातचीत दोबारा शुरू हो सकती है।

यह डील शेयरों की अदला-बदली के जरिये हो सकती है। हालांकि, इकनॉमिक टाइम्स इसकी डिटेल हासिल नहीं कर सका है। इसमें दुनिया और चीन की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा महत्वपूर्ण खिलाड़ी है। इसकी पेटीएम में 40 पर्सेंट और स्नैपडील में 3 पर्सेंट हिस्सेदारी है। पेटीएम ने अपना मार्केटप्लेस बिजनस पेटीएम ई-कॉमर्स प्राइवेट लिमिटेड की एक एंटिटी में अलग कर दिया है। यह एंटिटी अलीबाबा और SAIF पार्टनर्स से फंड जुटा रही है।

स्नैपडील और पेटीएम के मार्केटप्लेस के मर्ज होने पर किसी अन्य बड़े या नए इन्वेस्टर के न आने पर अलीबाबा नई एंटिटी की सबसे बड़ी शेयरहोल्डर होगी। अन्य महत्वपूर्ण शेयरहोल्डर जापान का सॉफ्टबैंक ग्रुप है, जिसने स्नैपडील में बड़ा इन्वेस्टमेंट किया है। इसका अलीबाबा में भी बड़ा स्टेक है। इस डिवेलपमेंट से वाकिफ एक सूत्र ने बताया, ‘स्नैपडील और पेटीएम के बीच मर्जर की बातचीत हुई है और इस डील में अलीबाबा की भूमिका है।’ पेटीएम ने पेमेंट्स बैंक लाइसेंस के लिए आवेदन किया है। उसे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के नियम के अनुसार 31 मार्च तक अपने मार्केटप्लेस को अलग करना है।

एक अन्य व्यक्ति ने बताया कि पेटीएम के मार्केटप्लेस में अलीबाबा की ओर से हाल ही में कैपिटल लगाना भी किसी डील के लिए एक महत्वपूर्ण कारण होगा। इस बारे में सभी संबंधित कंपनियों को ईमेल से प्रश्न भेजे थे। सॉफ्टबैंक ने इसके जवाब में कहा, ‘हम अफवाहों पर टिप्पणी नहीं करते।’ पेटीएम ने भी सवालों के जवाब नहीं दिए। वहीं, स्नैपडील और अलीबाबा ने कहा कि इस तरह की किसी ट्रांजैक्शन की योजना नहीं है।

इससे पहले इकनॉमिक टाइम्स ने रिपोर्ट दी थी कि पेटीएम के मार्केटप्लेस में अलीबाबा 1,350-1,700 करोड़ रुपये के इन्वेस्टमेंट राउंड की अगुवाई कर रही है। यह अलीबाबा का एक ऐसे मार्केट में औपचारिक प्रवेश है, जिसमें उसका मुकाबला अमेरिका की ऐमजॉन और भारत की फ्लिपकार्ट से होगा। सूत्र ने कहा, ‘स्नैपडील और पेटीएम का मैनेजमेंट यह देखने के लिए इंतजार कर रहा है कि दोनों कंपनियां 2017 के पहले दो महीनों में कैसा प्रदर्शन करती हैं।’

Share With:
Rate This Article