जाट समेत 6 जातियों के आरक्षण मामले में आज फिर होगी सुनवाई

चंडीगढ़/हरियाणा

हरियाणा में जाटों समेत 6 जातियों को स्पैशल बैक्वर्ड क्लास में सरकार द्वारा आरक्षण दिए जाने के खिलाफ दायर जनहित याचिकाओं पर आज फिर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई है। यादव कल्याण सभा द्वारा जाट सिख जजों की इस बैंच पर सवाल खड़े करते हुए केस अन्य बैंच में रैफर करने की मांग को खारिज किए जाने के बाद अब दोबारा मुख्य मामले की सुनवाई शुरू होगी। आपको बता दे कि मंगलवार को सुनवाई के दौरान कुम्हार महासभा की तरफ से अधवक्ता वी.के. जिंदल ने दलील पेश करते हुए कहा कि जाटों को बिना किसी ठोस आधार के आरक्षण दे दिया गया। कहा गया कि जाटों को आरक्षण देते वक्त उचित प्रक्रिया नहीं अपनाई गई है। ऐसे में यह आरक्षण रद्द किए जाने की मांग की गई। मामले में कुम्हार महासभा द्वारा अपनी दलीलें आज भी जारी रखी जाएंगी।

गौरतलब है कि हिंसक जाट आरक्षण आंदोलन के बाद हरियाणा सरकार ने विधानसभा के बजट सत्र में काननू पास करवाकर जाटों को ओबीसी कोटे का 10 फीसदी आरक्षण दिया था। कुछ दिन बाद ही इसे हाईकोर्ट में चुनौती दे दी गई थी। वहीं हरियाणा सरकार ने जाट आंदोलन के बाद आरक्षण की घोषणा कर दी थी, जिसमें जाटों सहित 6 जातियों को आरक्षण ओबीसी के तहत रिजर्वेशन देने का प्रावधान था। इसके खिलाफ मई माह में हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी तो हाईकोर्ट ने 21 जुलाई तक की अंतरिम रोक लगा दी थी। इसके बाद से लगातार ये मामला कोर्ट में विचाराधीन है।

Share With:
Rate This Article