चौथी बार ‘स्पोर्ट्समैन ऑफ द ईयर’ बने बोल्ट

स्प्रिंट बादशाह उसेन बोल्ट ने क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लेब्रोन जेम्स जैसे दिग्गजों को पछाड़कर यहां लारेस विश्व पुरस्कार समारोह में चौथी बार ‘स्पोर्ट्समैन ऑफ द ईयर’ की ट्रॉफी जीतकर रिकॉर्ड की बराबरी की जबकि जिमनास्ट सिमोन बाइल्स ने महिला वर्ग में यह सम्मान हासिल किया। ये दोनों खेल के सबसे लंबे और सबसे छोटे एथलीट हैं। बोल्ट जहां 1.95 मीटर लंबे हैं तो सिमोन की लंबाई महज 1.45 मीटर है। लेकिन दोनों रियो ओलंपिक के धुरंधर रहे और जब उन्होंने यहां अपने पुरस्कार हासिल किये तो उनका गर्मजोशी से स्वागत हुआ। लारेस पुरस्कार 17 साल पहले यहीं शुरू हुए थे। बोल्ट ने यहां 2009, 2010 और 2013 में पुरस्कार जीता था, उन्होंने चौथी बार खेलों का ऑस्कर कहे जाने वाला पुरस्कार जीता। इससे वह महान टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर और सेरेना विलियम्स तथा सर्फर केली स्लेटर की बराबरी पर आ गये।

बोल्ट ने पुरस्कार महान माइकल जॉनसन से हासिल किया जिन्होंने उन्हें अन्य लोगों के रिकॉर्ड नहीं तोड़ने की बात कही। इसके जवाब में बोल्ट ने कहा, ‘आपका रिकॉर्ड तोड़ने के लिये, सॉरी।’ उन्होंने कहा, ‘इस शानदार पुरस्कार के लिये शुक्रिया। लारेस मेरे लिये बड़े पुरस्कारों में से एक है। यह मेरा चौथा पुरस्कार है और रोजर फेडरर जैसे दिग्गज के साथ इसकी बराबरी करना शानदार है। यह विशेष है।’
ओलंपिक जिमनास्टिक चैम्पियन सिमोन ने रियो ओलंपिक में अपने शानदार प्रदर्शन के बूते ‘स्पोर्ट्सवुमैन ऑफ द ईयर’ की ट्रॉफी हासिल की जिसमें उन्होंने चार स्वर्ण पदक और एक कांस्य पदक हासिल किया था। सिमोन ने कहा, ‘मेरे पास बयां करने के लिये शब्द नहीं हैं, यह पुरस्कार हासिल करना सम्मान की बात है। यह सिर्फ मेरे लिये नहीं है बल्कि मेरे वर्ग में सभी नामांकित हुए खिलाड़ियों के लिये है। हम सभी जहां हैं, वहां पहुंचने के लिये सभी ने एक सी मेहनत की है।’

Share With:
Rate This Article