भूख हड़ताल पर कर्मचारी, 15 फरवरी के बाद लेंगे बड़ा फैसला

पंजाब सरकार की ओर से विधानसभा में एक्ट पास करने के बाद भी रेगुलराइजेशन न होने से नाराज मुलाजिमों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी। चेतावनी दी है कि यदि 15 फरवरी तक आदेश जारी न हुए तो 16 से अनशन शुरू किया जाएगा। कर्मचारियों ने ठेका मुलाजिम एक्शन कमेटी के बैनर तले पंजाब सबॉर्डिनेट सर्विस फेडरेशन के साथ मिलकर चंडीगढ़ सेक्टर 17 में आंदोलन शुरू किया है।

मुलाजिम नेताओं सज्जन सिंह, आशीष जुलाहा व जगीश चाहल ने कहा कि सरकार ने विधानसभा में 27 हजार कच्चे मुलाजिमों को रेगुलर करने को कानून बनाया था, लेकिन अफसरशाही इससे कन्नी काट रही है। 19 दिसंबर को विधानसभा में कानून पास किए जाने को आज 56 दिन बीत चुके हैं। मुलाजिमों ने इस संबंध में मुख्य चुनाव अफसर से भी अपील की थी, जिन्होंने पहले आचार संहिता में छूट दे दी थी।

हालांकि बाद में उन्होंने सब कुछ मुख्य सचिव पर डाल दिया। आज तक मुलाजिमों को रेगुलर नहीं किया गया है। अफसरशाही रोज नई दलीलें दे रही है। इसके अलावा सुविधा मुलाजिमों को बहाल करने और प्रदर्शन के दौरान मुलाजिमों पर दर्ज मामले रद करने पर अफसरशाही टालमटोल कर रही है। इसके विरोध में सोमवार को विकास कुमार, करमजीत कौर बराड़, करमजीत कौर बठिंडा, सरवन सिंह व मनसे खान भूख हड़ताल पर बैठे हैं। अगर सरकार ने कुछ न किया तो 16 फरवरी से मुलाजिम नेता सज्जन सिंह मरणव्रत पर बैठेंगे।

Share With:
Rate This Article