बदायूं रैली में बोले मोदी- यूपी में अखिलेश सरकार के काम नहीं, कारनामे बोलते हैं

बदायूं

यूपी के बदायूं में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को रैली को संबोधित करते हुए विरोधियों पर निशाना साधा. सपा-कांग्रेस को कुनबा करार देते हुए उन्होंने कहा कि दोनों कुबने अपनी विफलता छिपाने के लिए लोगों के बीच जाकर अलग-अलग बातें करते हैं.

रैली की शुरूआत में पीएम ने कहा कि 2009 में मुझे आपके दर्शन करने का मौका मिला था. यदि मैं 2014 में आया होता तो परिणाम कुछ और होता. पीएम मोदी ने 2014 में न आने पर लोगों से माफी मांगी. उन्होंने कहा कि यूपी में जितने जिलें हैं, उनमें सबसे बुरे जिलों में बदायूं एक है. वहीं पीएम ने अखिलेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यूपी में उनका काम नहीं, कारनामे बोल रहे हैं.

सर्जिकल स्ट्राइक पर पीएम ने विरोधियों को घेरा. उन्होंने कहा कि ये सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगते हैं. उन्होंने कहा कि जिस दिन बहुमत वाली सरकार बनी थी, उसी दिन मैंने कहा था कि यह सरकार गरीबों के लिए काम करेगी. उसके बाद से ही सरकार गरीबों, शोषित, किसानों के लिए काम कर रही है.

पीएम मोदी ने कहा कि बदायूं की जनता ने बीजेपी का एमपी नहीं बनाया लेकिन इसके बावजूद बी हमने 500 गांवों में बिजली पहुंचाई. उन्होंने कहा कि ये मोदी है जिसने गांवों में बिजली पहुंचा दी, वर्ना अभी तक नहीं पहुंचती.

पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव के समय अखिलेश सरकार बसपा पर हमला करती थी, लेकिन जब सत्ता में आए तो ऐसे अफसरों को नोएडा में बिठाया जो भ्रष्टाचार करते थे. कोर्ट ने उन्हें सजा दी.

उन्होंने कहा कि मेरी सरकार गरीबों के लिए बनी है. जनता ईश्वर का रूप होती है. आज यूपी में शहर हो या गांव, दिन हो या रात हो, सुबह हो या शाम हो, क्या कभी कोई बहन बेटी अकेली घर से निकल सकती है क्या? अगर बेटी देर से गई है तो मां बाप चिंता करते हैं. भाईयों को दौड़ना पड़ता है.

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि एक दिन टीवी देखा तो पाया कि अखिलेश ने लोगों से सवाल पूछा कि अच्छे दिन आ गए क्या? मैं कहता हूं कि यूपी में पांच साल से तुम राज करते हो, अगर जनता कहती है कि नहीं तो उसके लिए जिम्मेदार सपा है.

Share With:
Rate This Article