उमा भारती ने कहा- बलात्कारियों का मानवाधिकार नहीं होता

आगरा

गुरुवार को आगरा में एक रैली को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने दावा किया कि 2003-04 में जब वह मध्यप्रदेश की मुख्यमंत्री थी तो उन्होंने बलात्कारियों पर टॉर्चर का तरीका अपनाया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उमा भारती ने रैली में कहा कि बलात्कारियों को उल्टा लटकाकर तब तक पीटना चाहिए जब तक उनकी खाल ना उधाड़ी जाए. उमा ने कहा कि इसके बाद उनके घावों पर नमक और मिर्च रगड़ने चाहिए ताकि वे रहम की भीख मांगे. वह बोलीं कि जब वह सीएम थी तो उन्होंने ऐसा ही किया था. उमा भारती ने कहा कि जब ऐसा करने पर एक पुलिस वालों ने आपत्ति जताई तो उन्होंने पुलिस वाले से कहा कि रेपिस्टों के कोई मानवाधिकार नहीं होता है.

रैली को संबोधित करते हुए उमा भारती ने अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को भी निशाने पर लिया, उन्होंने कहा कि वह पार्टी के लिए वोट तो मांग रही हैं लेकिन रेप पीड़िताओं से मिलने का उनके पास समय नहीं है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में पहले चरण के मतदान का प्रचार थम गया है, राज्य के 15 जिलों की 73 विधानसभा में 11 फरवरी को मतदान होना है.

Share With:
Rate This Article