तमिलनाडु के राज्यपाल से मिलीं शशिकला, सरकार बनाने का दावा पेश किया

चेन्नै

तमिलनाडु में सत्ता की जंग तेज हो गई है. विधानसभा में शक्ति परीक्षण के लिए दोनों ही गुट अपना-अपना दावा पेश कर रहे हैं. इस बीच तमिलनाडु के राज्यपाल विद्यासागर राव से पहले मिलने पन्नीरसेल्वम राजभवन पहुंचे. दोनों की मुलाकात महज कुछ मिनट तक चली. उसके बाद शशिकला ने राज्यपाल से मुलाकात की. राजभवन से पहले शशिकला जया मेमोरियल पहुंची और वहां कुछ मिनट तक रुकीं.

मेमोरिलय पहुंचते ही शशिकला के आंखों में आंसू छलक आए. शशिकला ने राज्यपाल को विधायकों के समर्थन वाली चिट्ठी सौंपी है और सरकार बनाने का दावा पेश किया. शशिकला के साथ तमिलनाडु सरकार के तमाम मंत्री भी राजभवन पहुंचे हैं.

इससे पहले राज्यपाल से मुलाकात के बाद पन्नीरसेल्वम ने कहा कि वो अपना इस्तीफा वापस लेने के लिए तैयार हैं, क्योंकि दबाव डालकर उनसे इस्तीफा लिया गया था. पन्नीरसेल्वम ने कहा कि राज्यपाल ने फिलहाल कोई आश्वासन नहीं दिया है, वो शशिकला से मुलाकात के बाद अपनी राय देंगे.

शशिकला का दावा है कि 134 में से 132 विधायक उनके साथ हैं. दूसरी ओर पन्नीरसेल्वम 50 विधायकों के समर्थन का दावा कर रहे हैं. अब राज्यपाल को फैसला करना है. पन्नीरसेल्वम ने शशिकला गुट पर विधायकों का अपहरण कर उन्हें बंधक बनाने का आरोप लगाया है.

तीन दिन पहले शशिकला के सीएम बनने के लिए खुद इस्तीफा देने वाले पन्नीरसेल्वम मंगलवार शाम अचानक बागी हो गए और उन्होंने शशिकला पर कई गंभीर आरोप लगाए. दूसरी ओर शशिकला ने भी मोर्चा खोल दिया और पन्नीरसेल्वम को जहां गद्दार और झूठा कहते हुए पार्टी से और कोषाध्यक्ष पद से निष्कासित कर दिया.

हालांकि, पन्नीरसेल्वम नहीं माने और उन्होंने दो बैंकों को निर्देश दिया है कि बगैर उनके आदेश के पार्टी के खाते से कोई लेन-देन ना हो. वहीं, डीएमके ने तमिलनाडु में दोबारा चुनाव कराने की मांग की है.

Share With:
Rate This Article