मुलायम की बहू अपर्णा यादव के मैदान में उतरने से लखनऊ कैंट सीट का चुनाव हुआ दिलचस्प

लखनऊ

इस बार लखनऊ कैंट का चुनाव और दिलचस्प हो चला है. वजह है यहां के चुनावी अखाड़े में मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव का उतरना. चुनावी दंगल में अपर्णा के सामने बीजेपी की तरफ से पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा की बेटी रीता बहुगुणा हैं. वहीं बहुजन समाज पार्टी ने इसी सीट से योगेश दीक्षित को खड़ा किया है.

अपर्णा यादव मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता के बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं. अपर्णा यादव पहली बार राजनीति में अपनी किस्मत आजमा रही हैं. वह राजनीति विज्ञान की छात्रा रही हैं और मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी से उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय संबंध और राजनीति में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है.

अपर्णा यादव को शास्त्रीय संगीत की भी जानकारी है. उन्होंने लखनऊ स्थित ‘भतखंडे संगीत संस्थान’ से शास्त्रीय संगीत सीखा. उन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान सपा का प्रमोशनल गीत भी रिकॉर्ड किया था. इसके अलावा सैफई और लखनऊ महोत्सव में वह अकसर परफॉर्मेंस भी देती हैं.

सामाजिक कार्यों में अपर्णा को काफी दिलचस्पी है जिसके चलते वह राजनीति में आईं. अपने परिवार में अपर्णा सोशल मीडिया और सामाजिक कार्यक्रमों में से सबसे ज्यादा सक्रिया रहती हैं.

अपर्णा पहली बार पिछले साल अक्टूबर में राजनीतिक मंच पर नजर आईं। तब वह पार्टी के एक कार्यक्रम में शामिल हुई थीं. वह लखनऊ में समाजवादी पार्टी के नेशनल कन्वेंशन में प्रतीक के साथ बैठी दिखाई दीं. तब प्रतीक के चाचा और सपा नेता शिवपाल यादव ने अपर्णा यादव की राजनीति में एंट्री के बारे में कुछ भी कहने से साफ इनकार कर दिया था.

एक बच्चे की मां अपर्णा यादव ‘हर्ष फाउंडेशन’ नाम के एक सामाजिक संगठन के साथ भी जुड़ी हुई हैं. संगठन के महिला सशक्तिकरण अभियन ‘बी अवेयर’ के लिए वह उसकी ब्रांड एंबेसडर हैं. इसके अलावा वह कई जिलों में महिला छात्राओं को समय-समय पर संबोधित करती रहती हैं.

Share With:
Rate This Article