पन्नीरसेल्वम पर भारी शशिकला 134 में 131 MLA के समर्थन का दावा

तमिलनाडु में सत्ताधारी AIADMK की महासचिव वीके शशिकला राज्य में जारी सियासी रस्साकशी में कार्यकारी सीएम ओ पन्नीरसेल्वम पर भारी पड़ती दिख रही है. समर्थकों के बीच अम्मा के नाम से मशहूर पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता की राजनीतिक विरासत की इस जंग में शशिकला के धड़े ने 131 विधायकों के समर्थन का दावा किया है.

यहां बगावत पर उतारू पन्नीरसेल्वम ने विधानसभा में बहुमत साबित करने का दावा जरूर किया, लेकिन उन्होंने महज 50 विधायकों के अपने साथ होने की बात कही.

पन्नीरसेल्वम के इस दावे के बाद पार्टी की महासचिव शशिकला ने विधायकों की बैठक बुलाई. पार्टी सूत्रों के मुताबिक, बैठक में शशिकला ने 11 मिनटों के अपने संबोधन में विधायकों से उनके साथ रहने की अपील की.

उन्होंने सभी विधायकों से साथ रहने का आह्वान करते हुए कहा कि पिछले 48 घंटों में जो कुछ भी हुआ, वो गद्दारों की साजिश हैं. आप उन गद्दारों के पीछे नहीं जाएं, हम सबको एकसाथ रहना चाहिए.

इस बैठक के बाद शशिकला ने पार्टी मुख्यालय से बाहर आकर समर्थकों का अभिवादन किया. सूत्रों ने साथ ही बताया कि पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में पार्टी के 134 में से 129 विधायक मौजूद थे, वहीं मनोरंजितम और तमीमुल अंसारी ने चिट्ठी भेजकर शशिकला को समर्थन जताया.

वहीं बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में शशिकला ने कहा, ‘अम्मा के निधन के बाद पन्नीरसेल्वम सहित तमाम नेताओं ने मुझसे सीएम पद की जिम्मेदारी संभालने को कहा. 33 सालों से मैं जयललिता के साथ थी. उनके निधन से मैं बेहद दुखी थी, इसलिए तब ऐसा नहीं किया.’ उन्होंने कहा, ‘अम्मा और एमजीआर के अच्छे कार्यों और विरासत को आगे ले जाना हम सब का कर्तव्य है… यहां कुछ ताकतें हैं, जो पार्टी को बांटना चाहती हैं, लेकिन उनकी बातों पर ध्यान नहीं दें.’

Share With:
Rate This Article