पत्नी के भरोसे मां को छोड़कर विदेश गया था बेटा, पढ़ें बहु ने क्या किया

जिला कपूरथला के भुलत्थ क्षेत्र की एन.आर.आई बैलट के गांव अकबरपुर में आशिक और उसके नौजवान साथी की सहायता से दो कलयुगी बहुओं ने अपनी सास का कत्ल कर दिया लेकिन इस कत्ल संबंधी पहले तो बहुओं ने लूट की कहानी बताई जिस उपरांत बेगोवाल पुलिस ने जांच पड़ताल करते सारी कहानी का 36 घंटों में पर्दाफाश करते बहुओं और दो नौजवानों को गिरफ्तार कर लिया है।

इस संबंध में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जानकारी देते हुए डी.एस.पी भुलत्थ डा. नवनीत सिंह माहल ने बताया कि 4 फरवरी को एस.एच.ओ बेगोवाल गुरमीत सिंह सिद्धू ने ए.एस.आई परमिन्द्र सिंह और पुलिस पार्टी सहित विधानसभा चुनावों की ड्यूटी के लिए बेगोवाल से टांडा रोड पर अड्डा सरूपवाल में नाकाबंदी की हुई थी तो इस दौरान प्रितपाल सिंह पुत्र मिलखा सिंह निवासी मकसूदपुर थाना मुकेरियां ने उनके पास आकर बयान लिखवाया कि उसकी बहन स्वराज कौर पत्नी स्व. दर्शन सिंह निवासी गांव अकबरपुर का कत्ल हो गया है।

इस कत्ल संबंधी केस दर्ज करने उपरांत एस.एस.पी कपूरथला अलका मीणा की हिदायतों अनुसार पुलिस द्वारा तख्तीश अमल में लाई गई। जिस दौरान एस.एच.ओ बेगोवाल गुरमीत सिंह मौका वारदात पर गए व लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया। इस दौरान सामने आया कि बजुर्ग महिला स्वराज कौर के दोनों बेटे विदेश में हें जिनमें से रजिन्द्र कौर का पति कमलजीत सिंह इंग्लैंड व राजदीप कौर का पति संदीप सिंह फ्रांस में है। जिस कारण दोनों बहूएं अपने तीन बच्चों सहित सास स्वराज कौर के साथ घर में रहती थी।

डी.एस.पी डा. माहल ने बताया कि एस.एच.ओ बेगोवाल द्वारा मौके पर की गई पूछताछ दौरान दोनों बहूओं ने अपनी बनाई कहानी बताई कि रात समय 1 बजे उनके घर 12 व्यक्ति आए थे जिन्होने हमारी सास को मारकर उससे करीब 6-7 तोले सोने के गहने लूट लिए व हमें घायल कर गए हैं। डी.एस.पी ने बताया कि दोनों बहूओं ने पुलिस को धोखा देने के लिए अपनी बाजुओं पर चाकू से मामूली खरोंचें की थी, लेकिन इस सारे मामले में पुलिस को शक लगा व मृतक स्वराज कौर की दोनों बहूओं से जब सख्ती से पूछताछ की तो यह बात सामने आई कि मृतका की बड़ी बहू रजिन्द्र कौर के गत करीब चार वर्षों से अचन कुमार उर्फ लवली पुत्र केवल सिंह निवासी अकबरपुर के साथ नाजायज संबंध चल रहे हैं जबकि छोटी बहू राजदीप कौर के नाजायज संबंधी गांव जलालपुर जिला होशियारपुर के नौजवान के साथ थे जो विदेश जा चुका है।

डी.एस.पी भुलत्थ ने बताया कि अचन कुमार गांव अकबरपुर का ही होने कारण रात को स्वराज कौर के घर आता था और रजिन्द्र कौर रात समय अपनी सास स्वराज कौर की दाल सख्जी में नींद की गोलियां डाल देती थी जिस उपरांत अचन कुमार को फोन करके बुला लिया जाता था। इस पूरी बात संबंधी स्वराज कौर को पता चल गया था। जिस कारण रजिन्द्र कौर पत्नी कमलजीत सिंह व राजदीप कौर पत्नी संदीप सिंह अपनी सास को अपने रास्ते का कांटा मानती थी व करीब 15 दिन से अचन कुमार से सलाह करके अपनी सास को कत्ल करना चाहती थी।

इसी दौरान 2 फरवरी की रात को रजिन्द्र कौर और राजदीप कौर ने अचन कुमार व उसके दोस्त गोपी पुत्र बग्गा निवासी अकबरपुर से रात समय प्लान तैयार किया कि 4 फरवरी को चुनाव हैं इसलिए 3 व 4 फरवरी की मध्य रात्रि को स्वराज कौर को खत्म कर दिया जाए। जिस उपरांत 3 फरवरी की रात रजिन्द्र कौर व राजदीप कौर ने अपनी सास की सब्जी में नींद की गोलियां डाल दी जिस कारण वह गहरी नींद में सो गई व इन दोनों बहूओं ने फोन करके अचन को बुलाया जो अपने दोस्त गोपी पुत्र बग्गा निवासी अकबरपुर को लेकर उनके घर पहुंचा। जिस उपरांत छोटी बहू राजदीप कौर ने अपनी सास स्वराज कौर की टांगें पकड़ ली जबकि बड़ी बहू रजिन्द्र कौर ने हाथ पकड़ लिए, अचन कुमार उर्फ लवली ने उसके मुंह पर तकिया रखकर दबा दिया जबकि गोपी ने गले में दुपट्टा डालकर स्वराज कौर का गला दबा दिया। जब स्वराज कौर ने तड़पते दम तोड़ दिया तो अचन कुमार ने अपने साथ लाई लोहे की राड से स्वराज कौर के सिर पर वार किया।

स्वराज कौर का कत्ल करने उपरांत बनाई स्कीम मुताबिक दोनों बहूओं ने अपनी बाजूओं पर चाकू से मामूली खरोंचें लगाई व दो कमरों की अल्मारियों में से कपड़े व बिस्तरे निकाल कर बिखेर दिए। जिस उपरांत दोनों बहूओं ने यह शोर मचा दिया कि हमारे घर लुटेरे घुस आए हैं जो हमारी सास का कत्ल कर हमें घायल कर गए हैं व जाते हुए घर से आई फोन व गहने ले गए हैं लेकिन बहूओं का यह ड्रामा अधिक देर नही चल सका व पुलिस ने जांच दौरान इस कहानी का पर्दाफाश कर दिया। डी.एस.पी डा. माहल ने बताया कि इस मामले में मृतका की बहूओं रजिन्द्र कौर व राजदीप कौर के अतिरिक्त अचन कुमार व गोपी को गिरफ्तार करके अचन कुमार से आई फोन व गोपी को कत्ल में मदद बदले दिए सोने के गहने बरामद कर लिए हैं। इसके अतिरिक्त कत्ल में प्रयोग किया तकिया, दुपट्टा व राड भी बरामद किए जा चुके हैं।

Share With:
Rate This Article