IGMC हॉस्टल रैगिंग मामला, सीनियर के खिलाफ FIR दर्ज

शिमला

हिमाचल के सबसे बड़े स्वास्थ्य संस्थान इंदिरा गांधी मैडीकल कालेज (आई.जी.एम.सी.) में सीनियर मैडीकल छात्र द्वारा जूनियर के साथ की गई मारपीट का खुलासा हो गया है। प्रशासन द्वारा गठित 3 सदस्यीय रैगिंग जांच कमेटी ने पाया है कि जूनियर छात्र की रैगिंग की गई थी, ऐसे में आई.जी.एम.सी. के प्रधानाचार्य अशोक शर्मा ने मंगलवार सुबह सदर थाने में रैगिंग का मामला दर्ज करवाया है। यह रैगिंग आई.जी.एम.सी. स्थित रमन होस्टल के कमरा नंबर 147 में बीते रविवार रात को हुई थी, जहां एम.बी.बी.एस. फस्र्ट ईयर के मनीष के साथ सीनियर छात्र प्रवीण नेगी ने रैगिंग की और उससे होस्टल से बाहर निकाल दिया था।

होस्टल से नग्न बाहर निकला छात्र

सूत्रों के अनुसार पहले सीनियर ने जूनियर को होस्टल के अंदर लाइनों में खड़ा किया फिर जो छात्र शुरू में लाइन पर खड़ा था उसे अपने कपड़े उतारने को कहा लेकिन उसने मना कर दिया, ऐसे में उसे 2 थप्पड़ जड़ दिए लेकिन उसके बावजूद जूनियर ने कुछ नहीं कहा। सिर्फ इतना ही कहा कि मुझे छोड़ दो। इस दौरान बाकी छात्र तुरंत वहां से भाग गए और वहां पर सिर्फ एक छात्र ही 3 सीनियर डाक्टर के हत्थे चढ़ा और उन्होंने उसके सारे कपड़े उतार दिए। इस दौरान तीनों छात्रों ने उसके साथ मारपीट की और होस्टल से बाहर नग्न ही दौड़ा दिया जो सुबह तक होस्टल के बाहर ही घूमता रहा। सुबह 5 बजे के करीब जब बाकी छात्र होस्टल से बाहर आए तो वह उनके साथ होस्टल गया। इस दौरान सीनियर ने जूनियर पर दबाव डाला कि यह शिकायत होस्टल से बाहर नहीं जानी चाहिए।

Share With:
Rate This Article