BSSC पेपर लीक मामले में सचिव के घर SIT का छापा

बिहार कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा का पर्चा लीक के मामले में गठित एसआईटी ने अपनी कार्रवाई तेज कर दी है. एसआईटी ने आयोग के सचिव परमेश्वर राम से तीन घंटे तक पूछताछ की और उनके घर पर मंगलवार की शाम को छापा भी मारा गया. एसआईटी ने इस मामले गंभीर मानते हुए कहा कि जल्दी ही पर्चा लीक करने वाले जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई होगी. सोमवार को आक्रोशित छात्रो ने सचिव की जमकर पिटाई भी की थी.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है. पटना के एसएसपी मनु महाराज के नेतृत्व में आयोग के दफ्तर में सचिव परमेश्वर राम से घंटों पूछताछ की गई. इसके बाद में एसआईटी ने परमेश्वर राम के घर पर भी छापा मार कर कुछ दास्तावेज बरामद किए हैं. बिहार कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा में दो बार छात्रों ने पर्चा लीक होने की शिकायत की थी, लेकिन तब इसे अफवाह बताया गया था.

शिकायत करने वाले छात्र इससे बेहद रोष में है. सोमवार को छात्रों ने आयोग के दफ्तर का घेराव किया था. सचिव परमेश्वर राम और उनके पीए की जमकर पिटाई कर दी थी. मंगलवार को भी कई छात्र संगठनों ने रोष पूर्ण प्रदर्शन किया. छात्र परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे हैं. इसके साथ ही एसआईटी से जांच करने को लेकर सवाल भी उठा रहे हैं. उनकी मांग है कि किसी रिटायर्ड जज से इस मामले की जांच कराई जाए, ताकि सच्चाई सामने आ सके.

पटना के डीआईजी ने एसएसपी मनु महाराज के नेतृत्व में 8 सदस्यीय एसआईटी टीम का गठन किया. एसआईटी ने पर्चा लीक के सिलसिले में मंगलवार को कई गिरफ्तारियां की हैं. हालांकि, अभी तक उसका खुलासा नहीं किया गया. संभवत जल्दी एसआईटी इस मामले को लेकर खुलासा कर सकती है. बिहार में हाल ही में इंटर टॉपर घोटाला हुआ था. उसकी जांच भी एसआईटी ने किया था. इस मामले में सरगना सहित 32 लोग जेल भी गए थे.

Share With:
Rate This Article