पुलिस ने सुलझाई सुमित मर्डर केस की गुत्थी, पढ़ें क्यों हुई थी हत्या

हिसार

पुलिस ने साऊथ बाईपास पर फाटक के पास हुए मर्डर के मामले की गुत्थी सुलझा ली है। यह हत्या प्रेम-प्रसंग के चलते की गई थी। 1 जनवरी को घोड़ा फार्म नजदीक रेल फाटक के पास सुमित वासी बलम्बा के मर्डर मामले में पुलिस ने साइबर सैल की सहायता से मुख्य आरोपी सुमित वासी सातरोड़ को काबू किया। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि सुमित वासी बलम्बा की रिश्तेदारी सातरोड़ गांव में थी। उसकी रिश्तेदारी गांव मदीना में है। एक बार उसकी बहन मदीना गांव गई थी, जहां वो सुमित से मिली। बाद में दोनों फेसबुक पर आई.डी. तैयार करके चैटिंग करने लगे। इसका जब उसे पता चला तो पासवर्ड रिसैट करके खुद ही लड़की बनकर चैट करने लगा।

1 जनवरी को उसने चैट के जरिए से सैक्टर-13 की पाॢकग में सुमित को बुलाया। अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर उसे रेल फाटक के पास ले गए और उसके साथ मार-पिटाई करके सुमित को अचेत अवस्था में वहीं फैंक दिया। उसके बाद गाड़ी चढ़ाकर उसकी हत्या कर दी।

पुलिस आरोपी सुमित को सोमवार को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेगी। रिमांड अवधि के दौरान उसके अन्य साथियों के बारे में पूछताछ करेगी, साथ ही वारदात में प्रयोग किया गया वाहन बरामद करेगी।

Share With:
Rate This Article