मुलायम पड़े ‘नरम’, बोले- सपा-कांग्रेस गठबंधन के लिए प्रचार करूंगा, अखिलेश ही बनेंगे यूपी के CM

लखनऊ

समाजवादी पार्टी के प्रमुख और मौजूदा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने एक बार फिर बेटे अखिलेश यादव की जगह अपने भाई शिवपाल यादव को तरजीह दी है. मुलायम ने सोमवार को कहा कि वह पहले शिवपाल के लिए 11 फरवरी से प्रचार शुरू करेंगे और उसके बाद अखिलेश के लिए प्रचार करेंगे.

बता दें, कि मुलायम सिंह इटावा के जसवंतनगर सीट से सपा प्रत्याशी शिवपाल यादव के विधानसभा सीट से 11 फरवरी को चुनाव की शुरुआत करने जा रहे है. गौरतलब है कि शिवपाल ने इटावा की अपनी परंपरागत जसवंतनगर सीट से सपा के प्रत्‍याशी के रूप में नामांकन किया है. 13 फरवरी को मैनपुरी में चुनाव प्रचार करेंगे. संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने कहा कि पार्टी में कोई विवाद नहीं है, अगला सीएम अखिलेश यादव ही होंगे.

उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी से 8 मार्च के बीच सात चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल और समाजवादी पार्टी के अखिलेश धड़े के बीच गठबंध के बावजूद बहुकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा.

केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के बाद जिस तरह से बीजेपी को दिल्ली और बिहार में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है, वैसे में उत्तर प्रदेश का चुनाव प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है.

मुख्यमंत्री चेहरे को सामने न लाकर एक बार फिर बीजेपी ने पीएम मोदी के चेहरे पर दांव खेला है. इसका कितना फायदा उसे इन चुनावों में मिलेगा वह 11 मार्च को सामने आ ही जाएगा.

Share With:
Rate This Article