दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई सफर करने वालों के लिए खुशखबरी

नई दिल्ली

इंडियन रेलवे ने अपने बजट के जरिए दिल्ली से मुंबई अौर दिल्ली से हावड़ा कॉरिडोर पर 200 किमी की रफ्तार से ट्रेनें चलाने की व्यवस्था की है। हालांकि, यह कार्य अगले तीन साल में पूरा होगा लेकिन इसके पूरा होने के बाद इन दोनों ही रूटों पर ट्रेनों की स्पीड बढ़ जाएगी। इस तरह से भारत में ये पहले ऐसे दो रूट होंगे, जहां ट्रेनों की स्पीड सबसे अधिक होगी।

स्पीड के मामले में अभी सिर्फ गतिमान एक्सप्रेस ही है, जो दिल्ली से आगरा के बीच अधिकतम 160 किमी की रफ्तार से चलती है। इंडियन रेलवे के अफसरों का कहना है कि अगर इन दोनों कॉरिडोर पर ये प्रयोग कामयाब रहा तो यह इंडियन रेलवे में क्रांतिकारी बदलाव हो सकता है। इन दोनों कॉरिडोर में स्पीड बढ़ाने के लिए जो कार्य किए जाने हैं, उन पर लगभग 21 हजार करोड़ रुपये का खर्च आने की संभावना है। ऐसे में औसतन हर साल सात हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। रेलवे का इरादा है कि यह कार्य अपनी कंपनी रेल विकास निगम के जरिए ही कराया जाए।

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक , इन दोनों कॉरिडोर पर ट्रेनें 200 किमी की रफ्तार तक चलें, इसके लिए न सिर्फ रास्ते में आने वाले ब्रिजों को मजबूत किया जाएगा बल्कि इन कॉरिडोर के दोनों ओर फेंसिंग भी की जाएगी। इसी तरह से ट्रैक में मामूली बदलाव के साथ ही टर्न आउट चेंज होंगे और सिग्नल सिस्टम में भी बदलाव किया जाएगा।

Share With:
Rate This Article