चेन्नई तेल रिसाव मामला, केंद्र ने कहा- सफाई का 90 प्रतिशत काम पूरा

चेन्नई तट के पास तेल रिसाव से बढ़ती चिंताओं के बीच केंद्र ने आज कहा है कि अब तक 65 टन गाद निकाली जा चुकी है और साफ-सफाई का 90 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। केंद्र ने यह भी यकीन जताया कि साफ-सफाई का काम कुछ दिन में पूरा हो जाएगा।

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन समेत कई अन्य कंपनियां तेल की गाद को सुरक्षित तरीके से निपटाने के लिए विशेष जैव-उपचार सामग्री उपलब्ध करवा रही हैं।

आधिकारिक विग्यप्ति में कहा गया, दो फरवरी तक हटाई गई गाद की कुल मात्रा 65 टन है। ऐसा माना जाता है कि तेल रिसाव की मात्रा और प्राप्त हुई गाद की मात्रा के बीच बड़ा अंतर है। इसके पीछे की वजह यह है कि तेल जम जाता है और जब इसे पानी और रेत के साथ निकाला जाता है तो यह फूल जाता है। इसमें कहा गया, 90 प्रतिशत से अधिक काम पूरा हो चुका है और गाद निकालने का अधिकतर काम कुछ दिन में पूरा हो जाने की संभावना है।  इसमें कहा गया कि सुपर सकर्स ने 54 टन गाद निकाल दी है और इसमें 70 प्रतिशत पानी है।

विग्यप्ति में कहा गया, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने सुरक्षित निपटान के लिए एकत्र किए गए तेलीय गाद के उपचार के लिए विशेष जैव-उपचार पदार्थ उपलब्ध कराया है। इसमें कहा गया, एचपीसीएल ने एकत्र गाद को एन्नोर पत्तन क्षेत्र तक ले जाने के लिए ट्रेलर और श्रमबल उपलब्ध कराया है। वहां आईओसी के विशेषग्यों की निगरानी में इसका जैव उपचार किया जाना है। इसके लिए वहां 2000 वर्गमीटर का गड्ढा खोदा गया है।

Share With:
Rate This Article