31वां सूरजकुंड मेला, स्ट्रीट डांस से रोशन हुई चौपाल

फरीदाबाद

31वें अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड मेले में दूसरे दिन चौपाल पर कई देशों के रंग देखने को मिले। देशी-विदेशी गीत-संगीत की स्वरलहरियों से मेले की चौपाल गूंज उठी। पर्यटक झूमने के लिए मजबूर हो गए। तंजानिया के म्यूजिकल स्ट्रीट डांस के शुरू होते ही चौपाल पर्यटकों से गुलजार हो गई। इसके बाद किर्गिस्तान के बॉलीवुड आइटम की प्रस्तुति से धमाल मचा दिया। …मैं नाचूं आज छम छम छम गीत पर सैलानी अपने को रोक नहीं सके। कलाकारों के साथ वे भी नाचने के लिए मजबूर हो गए। गुरुवार को देशी-विदेशी करीब 21 ग्रुपों ने डांस की प्रस्तुति दोपहर तक मुख्य चौपाल पर दी।
म्यूजिकल स्ट्रीट डांस, तंजानिया: तंजानिया के सफी थियेटर के 15 कलाकार इस ट्रेडीशनल डांस को पहली बार मेले में पेश करने आए हैं। इस डांस में वाद्ययंत्र इस्तेमाल होते हैं। हल्की शुरूआत के बाद यह डांस भरपूर स्टंट डांस से ओतप्रोत हो जाता है। सुबह शुरू में ही डांस प्रस्तुत किया। इसे देखने वालों से चौपाल पूरी तरह भर गई।

बाॅलीवुड आइटम, किर्गिस्तान :5 महिला कलाकारों ने इसे प्रस्तुत किया। बॉलीवुड की तरह ही इसमें डांस का समावेश है। गाने के बोल थे ..मैं नाचूं छम छम छम। इस पर कलाकारों के साथ मेला देखने आए दर्शक भी झूमने के लिए मजबूर हो गए।

इन्होंने भी मिलाई ताल
इनके अलावा यूपी के 16 कलाकारों ने पाईगंडा डांस जो दिवाली पर विशेष रूप से होता है उसे पेश किया। इसके अलावा इजिप्ट के 11 कलाकारों ने ट्रेडीशनल डांस, राजस्थान के 13 कलाकारों ने होली के अवसर पर किया जाने वाला हांगीगिरी नृत्य, गुजरात के 21 कलाकारों द्वारा आदिवासी डांस राठवा की प्रस्तुति दी। कंबोडिया के कलाकारों ने देवताओं पर किया जाने वाला मिनी मेघाला डांस पेश किया।

Share With:
Rate This Article