सुरेश रैना के छक्के से घायल हुआ 6 साल का बच्चा, 10 मिनट के इलाज के बाद लिया मैच का मजा

भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरे और आखिर टी-20 मैच के दौरान सुरेश रैना के एक छक्के से 6 साल का सतीश नाम का एक बच्चा घायल हो गया. 6 साल के बच्चे की लेफ्ट थाई पर गेंद लगी जिससे वह घायल हो गया.

बच्चे को कर्नाटक क्रिकेट संघ के मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां उसका ट्रीममेंट किया गया. इस बच्चे का इलाज करने वाले डॉ मैथ्यू चांडी ने बताया कि बच्चे को मामूली दर्द की शिकायत थी. हमने उसे प्राथमिक उपचार दिया और 10 मिनट के बाद बच्चे ने वापस मैच देखने का अनुरोध किया.

जिसके बाद उसे वापस मैच देखने की इजाजत दे दी. जिसके बाद बच्चे ने स्टेडियम लौटकर पूरा मैच देखा. डॉक्टर ने कहा कि अगर यह सिक्स बच्चे के सिर या गले पर लगता तो स्थिति गंभीर हो सकती थी. क्योंकि वह इतना मजबूत नहीं है.

रैना की आंधी में उड़े अंग्रेज- सीरीज के आखिर मैच में सुरेश रैना ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 45 गेंदों पर 63 रनों की पारी खेली. इस पारी में रैनी 5 छक्के भी लगाए. यह रैना के कैरियर की चौथी फिफ्टी थी. रैना ने महज 39 गेंदो में 50 रन पूरे कर लिए थे. बता दें रैना ने सात साल बाद टी-20 मैच में फिफ्टी लगाई है. इससे पहले रैना ने देश के लिए खेलते हुए जून 2010 में जिम्बाब्वे के खिलाफ अर्धशतक लगाया था.

भारत ने जीती सीरीज- भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 202 रन बनाए हैं. जिसमें रैना की 63 रनों की शानदार पारी शामिल थी. भारत की घातक गेंदबाजी के सामने इंग्लैंड़ यह मैच 75 रनों से हार गया. भारत की ओर से यजुवेंद्र चहल ने 4 ओवर में 25 रन देकर 6 विकेट लिए. उनके आलावा जसप्रीत बुमराह ने 2.3 ओवर में 14 रन देकर तीन और अमित मिश्रा ने 4 ओवर में 23 रन देकर 1 विकेट झटका। मैच में इंग्लैंड के 4 बल्लेबाज अपना खाता भी नहीं खोल सके.

चहल ने बनाया रिकॉर्ड- युजवेंद्र चहल अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच में एक पारी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए. उन्होंने श्रीलंका के अजंता मेंडिस के रिकॉर्ड की बराबरी की. मेंडिस ने सितंबर, 2012 में जिम्बाब्वे के खिलाफ आठ रन देकर छह विकेट लिए थे. इससे पहले अगस्त, 2011 में मेंडिस ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 16 रन देकर छह विकेट लिए थे.

Share With:
Rate This Article