आज से संसद का बजट सत्र, वित्‍त मंत्री पेश करेंगे आर्थिक सर्वे

दिल्ली

संसद का बजट सत्र मंगलवार से शुरू हो रहा है. सत्र की शुरुआत में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे. राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद सरकार द्वारा आर्थिक सर्वे पेश किया जाएगा. हालांकि आम बजट 1 फरवरी को पेश होगा.

बजट सत्र का पहला हिस्सा 31 जनवरी से 9 फरवरी तक चलेगा जबकि दूसरा हिस्सा 9 मार्च से शुरू होकर 12 अप्रैल तक चलेगा. बजट सत्र के पहले हिस्से में हंगामा होने के आसार हैं. विपक्षी दलों ने संसद के इस सत्र की तारीख और नोटबंदी के मुद्दे पर सरकार को घेरने के संकेत दिए हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सर्वदलीय बैठक में विपक्ष से संसद चलाने के लिए सहयोग की अपील की. उन्होंने कहा कि चुनाव के समय में हमारे बीच कुछ मतभेद हो सकते हैं. लेकिन संसद महापंचायत है. इसे सुचारु रूप से काम करना चाहिए.

सीपीएम नेता सीताराम येचुरी ने बैठक में कहा कि सरकार को केंद्रीय बजट समय से पहले नहीं बुलाना चाहिए क्योंकि अर्थव्यवस्था के पूरे आंकड़ें दूसरी तिमाही के वक़्त आते हैं. पहले बजट पेश करने से सही आंकलन नहीं लग पाएगा. येचुरी के जवाब में संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि उच्चतम न्यायालय और चुनाव आयोग ने इस विषय पर पहले ही अपना फैसला सुना दिया है. अनंत कुमार ने कहा, ‘बजट इस साल भी वैसे ही पेश किया जाएगा जैसे पहले किया जाता था. सरकार का प्रयास होगा कि बजट का सभी को लाभ मिले और देश आगे बढ़े.

बैठक में तृणमूल कांग्रेस और शिवसेना नहीं पहुंची. तृणमूल कांग्रेस ने सत्र के पहले दो दिन संसद की कार्रवाई का बायकाट करने का ऐलान किया और कहा कि पार्टी नोटबंदी और उसके सांसदों पर सीबीआई कार्रवाई का मुद्दा उठाएगी.

Share With:
Rate This Article