जाट आरक्षण आंदोलन का तीसरा दिन, धरना स्थलों पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

हरियाणा में जाट समुदाय के आंदोलन का आज तीसरा दिन है. जाट नेता पिछले साल फरवरी में हुए आंदोलन के दौरान दर्ज हुए मामलों को वापस लेने और आंदोलन के दौरान मारे गए लोगों के परिवार वालों को नौकरी और मुआवजा देने की मांग कर रहे हैं.

झज्जर में इनेलो कार्यकर्ताओं, जाखड़ खाप के प्रधान और छारा चौदह तपे के प्रधान ने धरने का समर्थन किया. वहीं चरखी दादरी में भी अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के बैनर तले जाट समुदाय ने धरना दिया.

सुरक्षा के मद्देनजर धरना स्थल पर सीआरपीएफ जवान तैनात किए गए हैं. सिरसा में भी जाट नेताओं का धरना जारी है, तो वहीं सोनीपत के लाठ जोली गांव में भी जाट समुदाय का धरना दूसरे दिन देखने को मिला. जाट नेताओं का कहना है कि जब तक सरकार मांगें नहीं मान लेती. जाट समुदाय का शांतिपूर्ण ढंग से धरना जारी रहेगा.

Share With:
Rate This Article