जब राजपथ पर आई ‘जागो’, हर कोई देखता रह गया

देश आज 68वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। राजपथ से लेकर पूरा देश तिरंगे के रंग में सराबोर है। इस मौके परेड में पंजाब की संस्कृति का बखान करती झांकी निकाली गई जिसने सबका मन मोह लिया।
गौरतलब है कि 4 वर्ष  बाद इस बार पंजाब के लोकनाच की झलक गणतंत्र दिवस की परेड में  दिखी | ‘जागो आई आ’ विषय पर आधारित पंजाब की झांकी ने पंजाबी सभ्याचार का प्रतिनिधित्व किया।

पंजाबी विवाह मौके जागो विवाह से एक रात पहले निकाली जाती है, जिसमें दूल्हे या दुल्हन के रिश्तेदार और दोस्त पूरे गांव में घूम कर लाईट या दीए वाली गागर उठा कर लोगों को अपनी, खुशी में शामिल होने का न्योता देते हैं।

इस जागो की झांकी में सबसे आगे 4 महिलाएं  पंजाबी लिबास  में जागो सिर पर रख कर नाचती नजर आ रही हैं।  झांकी के आखिर में गांव के एक  घर को विवाह के माहौल में सजाया गया है। घर की दीवारों को भी पंजाबी कलेवर में रंगा गया है।

बताने योग्य है कि इससे पहले 2012 में पंजाब की झांकी गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल हुई थी । उसके बाद राज्य सरकार की तरफ से बाबा फरीद, बैसाखी, खालसा विरासत, मां भागों, प्रवासी पक्षियों समेत कई विषय पर पंजाब की तरफ से लगातार गणतंत्र दिवस का हिस्सा बनने की कोशिश की गई थी। पंजाब को 2017 में  जागो विषय को केंद्र ने हरी झंडी दी।

Share With:
Rate This Article