JIO ने एयरटेल का मुनाफा 55 फीसदी कम किया

मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने अपने सस्ते प्लान से देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल की भी कमर तोड़ दी है। भारती एयरटेल के मुनाफे में सीधे 55 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। 55 प्रतिशत की गिरावट के साथ भारती एयरटेल के चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) का शुद्ध लाभ 503.7 करोड़ रुपए रह गया है। यह चार साल में एयरटेल का सबसे कम लाभ है। वहीं, पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी ने 1,108.1 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था।

नई कंपनी रिलायंस जियो के ‘बाजार बिगाड़ने वाले मूल्य’ से कंपनी को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। तिमाही के दौरान कंपनी की एकीकृत आय तीन प्रतिशत घटकर 23,363.9 करोड़ रुपए पर आ गई जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 24,103.4 करोड़ रुपए थी। भारती एयरटेल के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी भारत व दक्षिण एशिया गोपाल विट्टल ने बयान में कहा, ‘‘नए ऑपरेटर की लगातार जारी बाजार बिगाड़ने वाली मूल्य नीति से यह तिमाही काफी परेशानी वाली रही। मौजूदा 14 पैसे का टर्मिनेशन शुल्क लागत से काफी कम है इससे हमारे नेटवर्क पर समाप्त होने वाले मिनट्स की सूनामी आ गई।’’

रिलायंस जियो सितंबर में अपनी सेवाएं शुरू करने के बाद से नि:शुल्क 4जी सेवा दे रही है। जियो की हैप्पी न्यू ऑफर के तहत 31 मार्च, 2017 तक मुफ्त सेवा जारी रखेगी। हैप्पी न्यू ईयर ऑफर के तहत रिलायंस जियो अनलिमिटेड वॉयस और वीडियो कॉलिंग, 4जी डेटा, एसएमएस और जियो ऐप्स जैसी सुविधआएं मुफ्त दे रही है। समीक्षाधीन तिमाही के दौरान एयरटेल की एकीकृत डेटा आय 4,049 करोड़ रुपए पर स्थिर रही। बंबई शेयर बाजार में भारती एयरटेल का शेयर मंगलवार को  0.95 प्रतिशत के नुकसान से 316.35 रुपए पर आ गया।

Share With:
Rate This Article