दिल्ली पहुंचे अबूधाबी के प्रिंस का पीएम ने किया स्वागत

नई दिल्ली

इस बार 68th रिपब्लिक डे पर पहली बार यूएई की आर्मी की राजपथ पर परेड करेगी। अबु धाबी के प्रिंस और यूएई आर्म्ड फोर्सेस के डिप्टी सुप्रीम कमांडर शेख मोहम्मद बिन जाएद अल नाह्यां मंगलवार को तीन दिन के दौरे पर दिल्ली पहुंच गए। वे इस बार रिपब्लक डे परेड के चीफ गेस्ट हैं। फ्रांस के बाद (2016) ये दूसरा मौका है, जब कोई विदेशी आर्मी परेड में हिस्सा ले रही है। सोमवार को हुई फुल ड्रेस रिहर्सल में यूएई की टुकड़ी भी शामिल रही। इस बार परेड में 23 झांकियां शामिल होंगी।

क्या होगा प्रिंस का शेड्यूल
-नाह्यां को राष्ट्रपति भवन में राजकीय भोज दिया जाएगा। इसके बाद प्रिंस राजघाट जाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देगें।
– 25 जनवरी की दोपहर में नरेंद्र मोदी के साथ हैदराबाद हाउस में बातचीत और 16 एग्रीमेंट्स पर साइन करेंगे।
– बुधवार को ही वे प्रेसिडेंट प्रणव मुखर्जी और वाइस प्रेसिडेंट हामिद अंसारी से मुलाकात भी करेंगे।
– 26 जनवरी को परेड समारोह देखने के बाद अपने देश के लिए रवाना हो जाएंगे।
– बता दें कि मोदी के पीएम बनने के बाद 2015 में बराक ओबामा और 2016 में फ्रांस्वा ओलांद परेड समारोह में बतौर चीफ गेस्ट शामिल हुए।

यूएई के एम्बेसडर ने क्या कहा?
– अहमद अल बन्ना ने कहा, ”हम आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में भारत का सपोर्ट करते हैं। यूएई ने पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले की निंदा की। साथ ही भारत के सर्जिकल स्ट्राइक का भी सपोर्ट किया था।”
– पिछले साल अक्टूबर में इन्विटेशन पर प्रिंस ने कहा था, ”हमारे मजबूत रिश्ते कई सालों से चले आ रहे हैं। आपसी सहयोग से इन्हें और मजबूती मिलेगी।” पिछले साल फरवरी में नाह्यां भारत दौरे पर आए थे।

दाऊद पर भी यूएई ने कसा शिकंजा
– बता दें कि 2015 में मोदी के यूएई दौरे पर दोनों देशों के बीच कई समझौते हुए थे। जिसमें हवाला कारोबार रोकने और जानकारियां साझा करने पर सहमति बनी थी। 34 साल बाद भारत के किसी पीएम ने यूएई का दौरा किया था।
– इसे भारत के मोस्ट वांटेड अपराधी दाऊद इब्राहिम के खिलाफ कार्रवाई की दिशा में बड़ा कदम माना गया था। इसके बाद खबर आई थी कि यूएई सरकार ने दाऊद की 15 हजार करोड़ की प्रॉपर्टी जब्त कर ली।
– कहा जाता है कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद फिलहाल पाकिस्तान के कराची में छिपा है। उसे 1993 में मुंबई बम विस्फोट के लिए जिम्मेदार बताया जाता है।

Share With:
Rate This Article