89 साल की उम्र में गीतकार नक्श लायलपुरी ने ली आखिरी सांस

मुंबई

उर्दू शायर और गीतकार जसवंत राय शर्मा उर्फ नक्श लायलपुरी का रविवार को निधन हो गया है। 89 साल के नक्श लायलपुरी ने आज अंधेरी स्थित अपने घर पर सुबह लगभग 11 बजे अंतिम सांस ली। उनके फैमिली फ्रेंड ने ये जानकारी देते हुए बताया कि वो कुछ दिनों से बीमार थे। उनका अंतिम संस्कार रविवार शाम ओशिवरा श्मशान गृह में होगा। बता दें, पंजाब के लायलपुर (अब पाकिस्तान की हिस्सा है) में जन्मे लायलपुरी 1940 के दशक में हिंदी सिनेमा में करियर बनाने के लिए मुंबई पहुंचे थे।

इस साल मिला था पहला मौका
लायलपुरी को गीतकार के तौर पर पहला मौका 1952 में मिला था। लेकिन उन्हें सक्सेस 1970 के दशक में मिली। जिसके बाद उन्होंने कई म्यूजिक डायरेक्टर्स और सिंगर्स के साथ काम किया। लायलपुरी के गीतों में ‘मैं तो हर मोड़ पर’, ‘ना जाने क्या हुआ’, ‘जो तूने छू लिया’, ‘उल्फत में जमाने की हर रस्म को ठुकरा’ और ‘दो दीवाने शहर में’ शामिल हैं। बता दें, लायलपुरी ने टेलीविजन के लिए भी गीत लिखे हैं।

Share With:
Rate This Article