मौन बैठा है प्रशासन, एक ही गांव के 40 परिवार टायफाइड से ग्रस्त

बैजनाथ

विधानसभा क्षेत्र बैजनाथ के तहत आते धरेड़ गांव में लगभग 30-40 परिवारों के बच्चों को टायफाइड ने जकड़ लिया है। सभी प्रभावित बच्चे बैजनाथ, पपरोला, पालमपुर व टांडा चिकित्सालयों में भर्ती किए गए हैं। यह जानकारी पूर्व जिला परिषद सदस्य तिलक राज ने दी। तिलक राज ने जिला प्रशासन से आग्रह किया है कि शीघ्र प्रभावित गांव धरेड़ में टायफाइड फैलने के कारणों का पता लगाया जाए। इसके अलावा प्रभावित परिवारों को आर्थि क सहायता मुहैया करवाई जाए।

अस्पताल पहुंचे 5 मामले
सिविल अस्पताल बैजनाथ में ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक ने बताया कि धरेड़ व सेहल गांव से 17 जनवरी से लेकर अब तक 5 मामले उक्त इलाके से संबंधित अस्पताल में दर्ज किए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस दौरान 2 बच्चे, 2 पुरुष और 1 प्रभावित महिला को अस्पताल में भर्ती किया गया है। उन्होंने बताया कि मरीजों के लिए गए टैस्टों में बुखार के केस हैं तथा इनका विडाल पॉजीटिव आया है, लेकिन फिर भी विडाल के पॉजीटिव आने के बाद भी इसे पूरी तरह से टायफाइड नहीं माना जा सकता।

क्या कहते हैं आई.पी.एच. विभाग के अधिकारी
इस संदर्भ आई.पी.एच. विभाग के संबंधित क्षेत्र के एस.डी.ओ. दिलेर चौधरी ने बताया कि उन्हें इस बारे कोई जानकारी नहीं है। इसके अलावा न ही उनके पास ऐसी कोई शिकायत आई है।

Share With:
Rate This Article