साइना ने जीता मलेशिया मास्टर्स बैडमिंटन टूर्नामेंट, थाईलैंड की चोचुवोंग को हराया

दिल्ली

शीर्ष भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने 120,000 डॉलर ईनामी राशि के मलेशिया मास्टर्स ग्रां प्री गोल्ड पर कब्जा जमा लिया. खिताबी मुकाबले में साइना ने थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवोंग को सीधे सेटों में 22-20, 22-20 से हराया.

रियो ओलिंपिक 2016 के दौरान घुटने में लगी चोट से उबरने के बाद साइना का यह पहली खिताबी जीत है. इससे पहले साइना ने सेमीफाइनल में हांगकांग की यिप पुई यिन पर सीधे गेम में जीत दर्ज करते हुए फाइनल में प्रवेश किया.

साइना का यिन के खिलाफ जीत का रिकॉर्ड 6-2 था, जिसने पिछली बार 2010 एशियाई खेलों में भारतीय खिलाड़ी को मात दी थी. इस तरह साइना ने उनके खिलाफ अपना रिकॉर्ड सात जीत का कर दिया था. लंदन ओलंपिक की कांस्य पदकधारी साइना ने एकतरफा सेमीफाइनल मुकाबले में पांचवीं वरीय यिन को 21-13 21-10 से शिकस्त दी थी.

शीर्ष वरीयता प्राप्त साइना एक समय पहले सेट में 0-4 से पिछड़ रही थी. बाद में पोर्नपावी चोचुवोंग ने अपनी लीड को 11-5 कर लिया. हालांकि साइना ने जोरदार वापसी करते हुए यह सेट 22-20 से जीत लिया. दूसरे सेट में भी मुकाबला कांटे का रहा.

एक समय मुकाबला 17-16 पर था. हालांकि अनुभवी साइना ने  इसके बाद लगातार 4 अंक लेकर बढ़त बनाई. हालांकि चोचुवोंग ने जोरदार वापसी की और मैच को 20-20 से बराबरी पर ला दिया. इसके बाद साइना ने लगातार दो अंक लेकर खिताब अपने नाम कर लिया.

साइना ने वर्ष का पहला खिताब जीतकर जीत के साथ नए वर्ष की शुरुआत की है. साइना ने अंतिम खिताबजून 2016 में ऑस्ट्रेलिया ओपन जीता था. भारतीय स्टार साइना नेहवाल को फाइनल मुकाबला जीतने में 46 मिनट तक संघर्ष करना पड़ा. मलेशिया का टर्फ भारतीय खिलाड़ियों को लुभाता रहा है. पीवी सिंधु ने वर्ष 2-13 में और वर्ष 2016 में खिताब जीता था. साइना ने इससे पहले वर्ष 2011 में फाइनल तक का सफर तय किया था.

Share With:
Rate This Article