गलती से LOC पार करने वाला जवान चंदू बाबूलाल चव्हाण वतन लौटा

भारतीय जवान जिसने पिछले साल सितंबर में गलती से नियंत्रण रेखा पार कर ली थी, पाकिस्तान ने उन्हें भारत को सौंप दिया है. सिपाही चंदू बाबूलाल चव्हाण को ‘मानवीय’ आधार पर वाघा सीमा पर भारतीय अधिकारियों के हवाले कर दिया गया. यह जानकारी पाकिस्तान ने शनिवार को जारी बयान में दी है. गौरतलब है कि पिछले साल भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की घोषणा के कुछ घंटे बाद महाराष्ट्र से ताल्लुक रखने वाले 22 साल के जवान के पाकिस्तान की गिरफ्त में आने की खबर आई थी.

उस वक्त सेना ने कहा था कि राष्ट्रीय रायफल्स के चंदू बाबूलाल चौहान सर्जिकल स्ट्राइक का हिस्सा नहीं थे और उन्होंने अपनी ड्यूटी के दौरान गलती से नियंत्रण रेखा पार कर ली थी.

बयान में यह भी कहा गया था कि इस तरह दोनों की तरफ सेना और नागरिकों का गलती से सीमा पार चले जाना कोई असामान्य बात नहीं है. उन्हें सही प्रक्रिया के जरिए वापस लाया जाता है. सितंबर में ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि चौहान को पाकिस्तान से वापिस लाने की पूरी कोशिश की जा रही है.

Share With:
Rate This Article