दिल्ली पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार वर्मा होंगे नए सीबीआई प्रमुख

दिल्ली

सीबीआई प्रमुख की नियुक्ति पर संशय दूर करते हुए केंद्र सरकार ने दिल्ली पुलिस के आयुक्त आलोक कुमार वर्मा को नया निदेशक नियुक्त किया है. सीबीआई प्रमुख के रूप में वर्मा का कार्यकाल दो साल का होगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय समिति ने उनके नाम को मंजूरी दे दी है. इस समिति में प्रधान न्यायाधीश जगदीश सिंह खेहर और लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी हैं.

2 दिसंबर को अनिल सिन्हा के रिटायर होने के बाद से यह पद खाली चल रहा था. गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना सीबीआई के अंतरिम निदेशक थे. हालांकि, उनकी नियुक्ति का विपक्षी दलों द्वारा कड़ा विरोध किया जा रहा था. अस्थाना पर अमित शाह के करीबी होने के आरोप लग रहे थे.

आलोक कुमार वर्मा के बारे में बता दें कि वर्मा अरुणाचल प्रदेश-गोवा-मिजोरम और केंद्रशासित प्रदेश (एजीएमयूटी) कैडर के 1979 बैच के आईपीएस अधिकारी वर्मा ने फरवरी, 2016 को दिल्ली पुलिस आयुक्त की जिम्मेदारी संभाली थी. 59 वर्षीय वर्मा दिल्ली पुलिस, अंडमान निकोबार, पुडुचेरी, मिजोरम और आईबी में विभिन्न पदों पर सेवाएं दे चुके हैं. दिल्ली पुलिस आयुक्त बनने से पहले वह तिहाड़ जेल के महानिदेशक थे.

बता दें कि 16 जनवरी को हुई चयन समिति की बैठक के बाद से ही वर्मा की नियुक्ति के दावे किए जा रहे थे. हालांकि सरकार ने कोई भी खुलासा नहीं किया था. सूत्र बताते हैं कि इस बैठक में खड़गे ने वर्मा के नाम पर यह कहते हुए आपत्ति जताई थी कि उन्हें सीबीआई में काम करने का अनुभव नहीं है.

Share With:
Rate This Article