नाइजीरियन एयरफोर्स की बड़ी गलती, रिफ्यूजी कैंप पर गिराए बम

नाइजीरियन एयरफोर्स के फाइटर जेट ने गलती से एक रिफ्यूजी कैम्प पर बम गिरा दिए, जिससे 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। हमला आतंकी गुट बोको हरम पर किया जाना था। मिलिट्री कमांडर मेजर जनरल लकी इराबोर ने बताया कि बम कैमरून के बॉर्डर से लगे रान टाउन में गिराए गए। इसमें कई सिविलियन मारे गए हैं।

मरने वालों में राहतकर्मी भी शामिल
– इस इलाके में आतंकियों पर होने वाली बमबारी में गांव वाले आम लोगों के घायल होने का आरोप लगाते रहे हैं। लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब मिलिट्री ने अपनी गलती मानी है।
– रेस्क्यू में लगे बोर्नो के ऑफिसर्स के मुताबिक, मरने वालों में 100 से ज्यादा रिफ्यूजी और राहतकर्मी शामिल हैं।
– इंटरनेशनल एनजीओ डॉक्टर्स विदआउट बॉर्डर्स का कहना है कि उन्होंने 52 बॉडी काउंट की हैं। 120 घायलों का इलाज किया जा रहा है।
– हमले में दो सोल्जर और डॉक्टर्स विदाउट बॉर्डर्स के कुछ वर्कर्स भी घायल हुए हैं।
रेडक्रॉस के 6 वर्कर्स भी मारे गए
– इंटरनेशनल रेडक्रॉस कमेटी ने बताया है कि नाइजीरिया की रेड क्राॅस सोसायटी के 6 वर्कर्स भी मारे गए हैं। 13 घायल हुए हैं।
– ये लोग यहां करीब 25000 जरूरतमंदों के लिए खाने के इंतजाम में लगाए गए थे।
बोको हरम के होने की इन्फॉर्मेशन थी
– नॉर्थ-ईस्ट नाइजीरिया में काउंटर ऑपरेशन में लगे एक अफसर ने बताया कि इलाके में बोको हरम की मौजूदगी का पता चला था। इसके बाद ही यह हमला किया गया।
– नाइजीरिया के प्रेसिडेंट मुहम्मदु बुहारी ने लोगों के मारे जाने पर दुख जताया है और लोगों से शांति की अपील की है।
पहले भी सेना पर लगे आरोप
– 2014 में बोको हरम ने स्कूल की करीब 300 लड़कियों को अगवा कर लिया था।
– इनमें से करीब 100 लड़कियों पिछले साल रिहा किया गया। हालांकि, 196 अभी भी लापता हैं।
– इन लड़कियों के पैरेंट्स ने बताया कि अगवा लड़कियों की 3 साथी एयरफोर्स की बमबारी में मारी गई थीं।
बोको हरम ने मारे 20 हजार से ज्यादा लोग
– इस्लामिक गुट बोको हरम 7 साल से एक्टिव है। उसने अब तक 20 हजार से ज्यादा लोगों को मारा है।
– इस आतंकी गुट की वजह से 26 लाख लोग अपना घर छोड़ने पर मजबूर हुए हैं।

Share With:
Rate This Article