कई बार बजट के महीने में मार्केट ने दिया निगेटिव रिटर्न, क्या इस बार बदलेगा ट्रेंड ?

बजट घरेलू इकनॉमी और कंपनियों के लिए सबसे अहम इंवेट होता है। कॉर्पोरेट्स से लेकर स्टॉक मार्केट की नजर इस इवेंट पर होती है।बजट को लेकर निवेशक इतना सतर्क रुख रखते हैं कि पिछले 10 फाइनेंशियल ईयर में बजट के महीने में स्टॉक मार्केट ने निगेटिव रिटर्न दिया है।

बजट से पहले का एक महीना मार्केट के लिए भारी
आमतौर पर फरवरी के अंत में आने वाला आम बजट इस बार पहली फरवरी को आएगा। अगर स्टॉक मार्केट के पिछले प्रदर्शन पर नजर रखें तो बजट ऐलान से पहले के 30 दिन मार्केट के लिए काफी दबाव भरे साबित हुए हैं। पिछले 10 साल के दौरान 7 बार बजट के महीने में सेंसेक्स और निफ्टी का रिटर्न निगेटिव रहा है।. वहीं पिछले साल फरवरी के दौरान सेंसेक्स 5 फीसदी से ज्यादा गिरा है। साल 2016-17 के बजट का ऐलान 29 फरवरी को हुआ था। साल 2014-15, 2013-14, 2011-12, 2009-10, 2008-09 और 2007-08 में बजट से पहले एक महीने के दौरान मार्केट ने निगेटिव रिटर्न दिया है।

फरवरी 2016- 8 सालों में दूसरा सबसे गिरावट वाला बजट का महीना
साल 2016 में फरवरी के महीने के दौरान सेंसेक्स 5 फीसदी से ज्यादा टूटा था। ये पिछले 8 सालों में बजट के महीने में आई दूसरी सबसे बड़ी गिरावट रही।मार्केट में ये गिरावट बजट को लेकर अनिश्चितता की वजह से देखने को मिली। टैक्स को लेकर आशंकाओं की वजह से विदेशी निवेशकों ने मार्केट में जमकर बिकवाली की थी।फरवरी 2016 में स्टॉक मार्केट से विदेशी निवेशकों ने कुल 12500 करोड़ रुपए की शुद्ध बिकवाली की थी।

साल 2013 के बजट महीने में मार्केट 6 फीसदी टूटा
इससे पहले फरवरी 2013 में सेंसेक्स 6.18 फीसदी गिरा था। हालांकि उस दौरान मार्केट पर इन्फ्लेशन, क्रूड कीमतें, ग्लोबल मार्केट और घरेलू इकनॉमी को लेकर अनिश्चितता हावी थी।

इसका असर निवेशकों के ट्रेंड पर भी देखने को मिला था। इस दौरान विदेशी निवेशकों के करीब 9500 करोड़ के शुद्ध निवेश के मुकाबले घरेलू निवेशकों ने 8800 करोड़ की. बिकवाली की थी।

Share With:
Rate This Article