कुत्तों के काटने से गांबिया के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के बेटे की मौत

बांजुल

राजनीतिक अस्थिरता का शिकार पश्चिमी अफ्रीकी देश गांबिया के हाल ही में निर्वाचित राष्‍ट्रपति आडमा बैरो के बेटे की कुत्‍ते के काटने से मौत हो गई. इस घटना के बाद जब 8 साल के हबीबू बैरो को अस्‍पताल ले जाया जा रहा था तब रास्‍ते में ही उसकी मौत हो गई. राजधानी बांजुल के उपनगर कनिफिंग में अंतिम संस्कार किया गया.

परिवार के एक सू़त्र ने बताया कि बैरो फिलहाल सुरक्षा कारणों से सेनेगल में हैं और वह बृहस्पतिवार को राष्ट्रपति पद की शपथ लेने वाले हैं. सूत्र ने कल बताया, ”कुत्तों द्वारा काटे जाने के बाद नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बैरो के बेटे हबीबू की रविवार की शाम को मौत हो गई.” हबीबू बैरो(51) की पांच संतानों में से एक था.

दरअसल आडमा बैरो ने कुछ समय पहले देश में हुए राष्‍ट्रपति चुनावों को जीता था लेकिन 1994 से ही इस पद पर मौजूद राष्‍ट्रपति याहया जामेह ने हारने के बावजूद पद छोड़ने से इनकार कर दिया और चुनाव नतीजों को मानने से इनकार कर दिया.

इससे देश में राजनीतिक अस्थिरता का माहौल पैदा हो गया है. अफ्रीकी संघ ने  भी याहया को पद छोड़ने के लिए कहा था लेकिन उन्‍होंने इनकार कर दिया. अब याहया को पद से हटाने के लिए सैन्‍य हस्‍तक्षेप के विकल्‍प पर विचार किया जा रहा है. आडमा समेत अफ्रीकी संघ ने याहया से कहा था कि वह यदि पद छोड़ देते हैं तो उनके खिलाफ कोई भी कार्यवाही नहीं की जाएगी लेकिन इसके बावजूद याहया अपनी जिद पर अड़े हैं.

याहया ने आडमा को रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका भी दायर की लेकिन सोमवार को चीफ जस्टिस ने मामले में किसी तरह का आदेश देने से इनकार कर दिया. ऐसे में गुरुवार को बैरो के शपथ ग्रहण समारोह का रास्‍ता साफ हो गया है. इन सब मौजूदा परिस्थितियों में गांबिया के क्षेत्रीय निकाय इकोवॉस ने बैरो से गुरुवार तक सेनेगल में ही रहने का अनुरोध किया है.

Share With:
Rate This Article