शिमलाः तांगणू गांव में करीब 56 मकानों में लगी आग, 10 करोड़ रुपए से ज्यादा नुकसान की आशंका

शिमला

हिमाचल प्रदेश के शिमला में दुर्गम क्षेत्र चिड़गांव तहसील के तांगणू गांव में आग लगने से करीब 56 घर तबाह हो गए है, जबकि 100 परिवार प्रभावित हुए हैं, आग रात करीब एक बजे शुरू हुई और लकड़ी के मकान होने की वजह से आग फैलती चली गई, सूचना मिलते ही पुलिस, प्रशासन और फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची और कई घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया

Fire2

बताया जा रहा है आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी, उधर, प्रशासन ने आगजनी से प्रभावित लोगों की राहत का काम शुरू कर दिया है.आगजनी से बेघर हुए लोगों के रहने की वैकल्पिक व्यवस्था कर दी गई है.इलाके के स्कूल में पीड़ित परिवारों के लिए अस्थायी आशियाना बनाया गया है..लोगों को ठंड से बचने के लिए कंबल और कपड़ों के साथ-साथ खाने पीने का सामान दिया जा रहा है ।

तहलीसदार मस्तराम ने एमएचवन न्यूज़ को बताया कि इस घटना में किसी के जान जाने की खबर नहीं है.पीड़ित परिवारों को प्रशासन की तरह तरह से बीस-बीस हजार रुपये की मदद दी जा रही है । प्रदेश सरकार की ओर से अगर किसी तरह के मुआवजे का एलान किया जाता है तो जल्द ही पीड़ित परिवारों तक मदद पहुंचाई जाएगी..फिलहाल ठंड में आग की वजह से बेघर हुए परिवारों के रहने और खाने का प्रबंध कर दिया गया है.

शिमला के डीसी रोहन चंद ठाकुर ने बताया कि सभी प्रभावितों को हर संभव सहायता दी जा रही है,,,पीड़ितों के लिए तांगणू के वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में राहत शिविर स्थापित किए गए हैं।

Fire3

ये पूरा इलाका शिमला से करीब अस्सी किलोमीटर दूर है.बर्फबारी की वजह से सड़कें भी पूरी तरह से नहीं खुली थीं इसलिए फायरब्रिगेड की गाड़ियों को पहुंचने में भी काफी वक्त लग गया.इस वजह से भी आग से ज्यादा नुकसान हुआ.एक अंदाज के मुताबिक इस आगजनी में दस से बारह करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है.

aag 01

शिमला में शीत लहर का प्रकोप जारी है..आने वाले कुछ दिनों में मौसम विभाग की ओर से बर्फबारी की चेतावनी दी जा रही है । ऐसे मे आग की वजह से बेघर हुए परिवारों की मुसीबत और ज्यादा बढ़ सकती है ।

Share With:
Rate This Article