बर्फ में मिले लापता NIT स्टूडेंट्स के शव

नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी (एनआईटी) के दो लापता छात्रों के शव राज्य के शिकारी देवी मंदिर के पास बरामद हुए हैं। दोनों छात्र 6 जनवरी से लापता थे। अक्षय कुमार और नवनीत राणा के परिवार ने जब मंडी पुलिस को यह जानकारी दी कि दोनों छात्र 6 जनवरी से एनआईटी के हमीरपुर कैंपस से लापता हैं, तो प्रशासन ने एक हेलीकॉप्टर समेत 40 सदस्यों वाली सर्च टीम बनाकर इनकी खोज शुरू की। शिकारी देवी मंदिर मनाली से 150 किलोमीटर दूर स्थित है, जहां का तापमान बीते एक सप्ताह से करीब -15 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना हुआ है।

पुलिस को बरामद हुए एक शव के पास से जो बैग मिला है, उसमें रखे आईकार्ड से यह पुष्टि हो गई है कि वह हमीरपुर के सुजानपुर में रहने वाले अक्षय का ही शव है, दूसरे शव की पहचान नहीं हो पाई है, लेकिन अधिकारियों को शक है कि वह बिलासपुर के नवनीत का ही शव होगा। माना जा रहा है कि ये छात्र या तो मंदिर की चढ़ाई कर रहे थे या फिर यहां से वापिस लौट रहे थे। दोनों में से किसी भी छात्र ने अपने अभिभावकों को मंदिर घूमने जाने की बात नहीं बताई थी। उन्होंने सिर्फ अपने एक दोस्त को यह जानकारी दी थी।

जब 5 दिनों से लगातार ये दोनों छात्र अपने कैंपस में नहीं दिखे, तो उनके अभिभावकों ने जनजेहली के एसडीएम अश्वनी कुमार से मदद के लिए गुहार लगाई। शुरुआती रिपोर्ट में एनआईटी के 4 छात्रों के लापता होने की जानकारी थी, लेकिन बाद में पुलिस को सिर्फ दो छात्रों के लापता होने की सूचना मिली। मंडी के एएसपी कुलभूषण वर्मा ने बताया, ‘हमने छात्रों की कॉल डिटेल इकट्ठा की, इसके बाद पुलिस ने लोकल पर्वतारोहियों और निवासियों को लेकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया।’ इस दौरान उन्हें दो शव मिले, जिन्हें जांच के लिए वे मंडी लेकर आ गए।

Share With:
Rate This Article